Wednesday , 22 January 2020
संदिग्ध परिस्थिति में घर में मिले दो सगे भाइयों के शव, पास बैठा था पिता

संदिग्ध परिस्थिति में घर में मिले दो सगे भाइयों के शव, पास बैठा था पिता


अयोध्या. नगर में संदिग्ध परिस्थितियों में दो भाईयों की मौत हो गई. दोनों के शव कमरे में पड़े हुए थे और शव के पास उनका वृद्ध पिता एक मेज पर बैठा था. वारदात कोतवाली नगर क्षेत्र के लालबाग मुहल्ले की है. दोनों की मृत्यु का कारण अज्ञात है. घटना हत्या और आत्महत्या के बीच उलझी हुई है. पुलिस का कहना है कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत का सही कारण सामने आएगा.

जानकारी के मुताबिक लालबाग निवासी 90 वर्षीय बलवंत सिंह अपने दो पुत्रों जसबीर सिंह (60) और करतार सिंह (40) के साथ एक किराए के मकान में पिछले 70 साल से रह रहे हैं. बुधवार की सुबह घर में खाना बनाने वाली महिला जब पहुंची तो दरवाजा बंद था. काफी देर खटखटाने के बाद दरवाजा नहीं खुला तो महिला ने पड़ोसियों को जानकारी दी. पुलिस की मौजूदगी में दरवाजा खोला गया तो अंदर का दृश्य देख लोग दंग रह गए. जसबीर का अर्द्ध नग्न शव चारपाई पर तथा करतार सिंह का शव जमीन पर पड़ा था. वृद्ध बलवंत सिंह पास में एक मेज पर सहमे बैठे थे.

बलवंत के शरीर पर कम कपड़े का होना पुलिस बता रही है. आसपास के लोगों से पूछताछ के बाद पुलिस का कहना है कि दोनों को मुहल्ले वालों ने मंगलवार की शाम को देखा था. बताया जाता है कि मृतक जसबीर और करतार दोनों अविवाहित थे. जसबीर सुभाषनगर में कपड़े की दुकान का संचालन करता था. उसी से परिवार का भरण-पोषण होता था. बलवंत और करतार की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी. दोनों भाईयों की मौत को लेकर पुलिस ने उनके पिता बलवंत से काफी पूछताछ की, लेकिन वह कुछ बता नहीं सके.