Friday , 14 May 2021

बेहतर धान खरीदी व्यवस्था से किसानों में दिखी खुशी

जगदलपुर. धूप-बरसात सहकर बड़े ही लाड़ प्यार से फसल की देखभाल करते हुए बड़ा करने के बाद उसे सही कीमत पर बेचने की खुशी किसानों के चेहरे पर अलग ही दिखती है. फसल की सही कीमत मिलने पर धूप-बरसात में दिन-दिन भर किए गए मेहनत की भरपाई हो जाती है. यह कहना है माड़पाल के किसान बलीराम का, जो 50 बोरों में भरकर अपना धान बेचने के लिए उपार्जन केन्द्र पहुंचे. उन्होंने कहा कि छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) शासन से धान उत्पादक किसान काफी खुश हैं. धान की सही कीमत देने के साथ ही किसानों की सुविधा के लिए शासन द्वारा किए गए प्रयास भी दिखाई देते हैं.

उन्होंने बताया कि धान खरीदी के लिए बारदाने उपलब्ध होने से धान विक्रय में आसानी हुई. माड़पाल के ही उमाशंकर कुंवर ने भी माड़पाल उपार्जन केंद्र में 44.40 क्विटल मोटा धान का विक्रय की बात कही. किसानों ने धान खरीदी के लिए किए गए प्रबंध के लिए प्रशासन की प्रशंसा करते हुए बताया कि धान खरीदी की व्यवस्था का जायजा लेने के लिए नियमित तौर पर उच्चाधिकारी भी यहां नियमित तौर पर आ रहे हैं. जिला प्रशासन द्वारा सभी उपार्जन केंद्रों में बारदानों की उलब्धता सुनिश्चित कराने के लिए खाद्य विभाग के एक अधिकारी को नोडल अधिकारी बनाया गया. जो प्रतिदिन उपार्जन केंद्रों में धान खरीदी से प्रारंभ होने से पहले बारदाना की आवश्यकता को पूरा करवाने के कार्य कर रहे है. इसके अलावा जिला शहकारी बैंक, विपणन संघ द्वारा केंद्रों से धान खरीदी, उठाव के साथ-साथ बारदानों की व्यवस्था का सतत् निगरानी किया जा रहा है.

Please share this news