Wednesday , 2 December 2020

पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक की झूठी खबरें उड़ींं

नई दिल्‍ली . सोशल मीडिया (Media) पर गुरुवार (Thursday) को अचानक #airstrike, Big Breaking और भारतीय सेना ट्रेंड करने लगे. शाम को एक सरकारी समाचार एजेंसी ने एक खबर चलाई जिसमें कहा गया कि भारतीय सेना ने पीओके में पिन पॉइंट सर्जिकल स्ट्राइक की. जैसे ही एजेंसी ने खबर जारी की कि भारतीय सेना ने पीओके में घुसकर आतंकी ठिकानों को ध्वस्त किया है वैसे ही सभी जगह न्यूज फ्लैश हो गई.

army-air-strike

असल में यह पुरानी न्यूज थी जिसमें सभी को भ्रम हो गया. सोशल मीडिया (Media) में लोग भारतीय सेना को बधाई देने लगे और पाकिस्तान को सबक सिखाने की बात करने लगे. लेकिन कुछ ही देर बाद सेना की ओर से इसका खंडन कर दिया गया.

भारतीय सेना ने कहा कि पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर (पीओके) में हमारी तरफ से आतंकी ठिकानों पर कोई हमला नहीं किया गया है. वायु सेना ने भी कहा कि उसने भी पीओके में किसी तरह की सर्जिकल स्ट्राइक नहीं की है. सेना ने कहा कि जम्मू-कश्मीर में सुरक्षा बलों की ओर से इस तरह की कोई कार्रवाई नहीं की गई है.

इससे पहले ऐसी खबरें चली थीं कि भारत ने पीओके में कार्रवाई की है. इसी के बाद सेना की ओर से सफाई दी गई. बयान में कहा गया कि इस तरह की रिपोर्ट सही नहीं हैं. कुछ मीडिया (Media) में ऐसी खबरें चली थीं कि भारत ने पाकिस्तान की ओर से आतंकियों के घुसपैठ को रोकने के लिए यह कदम उठाया है.