Tuesday , 18 February 2020
कारगिल शहीद के शहादत दिवस पर हर आँख हुई नम

कारगिल शहीद के शहादत दिवस पर हर आँख हुई नम

फर्रुखाबाद. जो शहीद हुए हैं उनकी जरा याद करो कुर्बानी… कारगिल शहीद के शहादत दिवस पर देश भक्ति के तराने गूंजे. सभी नें शहीद को पुष्पांजली अर्पित की. नगर के सेन्ट्रल जेल चैराहे के निकट कारगिल शहीद मिलेटरी सिंह का शाहदत दिवस मनाया गया. आज के ही दिन मिलेटरी सिंह सीमा पर कारगिल युद्ध के दौरान शहीद हो गये थे. मिलेटरी सिंह की शहादत दिवस पर आयोजित श्रद्धांजलि सभा में नगर मजिस्ट्रेट अशोक कुमार मौर्य व भाजपा नेत्री मिथिलेश अग्रवाल नें शहीद के चित्र पर पुष्पांजली अर्पित की. इस दौरान मंच पर सांस्कृतिक कार्यक्रम का पेश किये गये. पूरा पांडाल देश भक्ति के तरानों से गूंज उठा. नगर मजिस्ट्रेट नें कहा कि शहीद शरीर जरुर छोड़ देंते है लेकिन वह देश के हर हिन्दुस्तानी के दिल में धड़कन बनकर जिन्दा रहते है.मिथिलेश अग्रवाल ने कहा कि देश को मिलेटरी सिंह जैसे बेटे पर गर्व है. सभी नें, मिलेटरी सिंह की पत्नी वीरनारी गीता सिंह को सम्मानित किया. शहिद के परिजनों ने सरकार द्वारा शहीद का हक उसे ना मिलने का मुद्दा उठाया. परिजनों नें कहा कि सरकार ने पेट्रोल पम्प देंने की बात कही थी लेकिन आज तक केबल वादे ही किये. कांग्रेस जिलाध्यक्ष विजय कटियार, भारती मिश्रा,विजय शुक्ला, वीरेन्द्र राठौर, संजय सोमबंशी, राकेश सिंह राठौर, रवि मिश्रा, आदित्य दीक्षित, प्रभात शाक्य, सुशील कुमार, सुधीर कुमार आदि रहे. संचालन वीरपाल सिंह नें किया. श्रद्धांजलि सभा में जिलाधिकारी मानवेन्द्र सिंह और एसपी डॉ० अनिल कुमार मिश्रा के आने का कार्यक्रम था. लेकिन वह कार्यक्रम में नही पंहुचे और नगर मजिस्ट्रेट को कार्यक्रम में भेज दिया.