Wednesday , 16 June 2021

गुजरात की 6002 औद्योगिक इकायों पर 1186 करोड़ का बिजली बिल बकाया

गांधीनगर (Gandhinagar) . सामान्य व्यक्ति यदि हजार-दो हजार का बिजली बिल का भुगतान नहीं करे, उसके बिजली कनैक्शन काट दिया जाता है. लेकिन औद्योगिक इकाइयां लाखों रुपए का बिल भुगतान नहीं करती इसके बावजूद उनके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाती है. गुजरात (Gujarat) विधानसभा में आज सरकार ने माना कि औद्योगिक इकाइयों से बकाया बिल की वसूली के लिए सख्ती नहीं की जाती.

गुजरात (Gujarat) विधानसभा में पेश किए गए आंकड़ों के मुताबिक राज्य की 6002 औद्योगिक इकायों पर बिजली बिल का रु. 1186 करोड़ से अधिक बकाया है. जिसमें सबसे अधिक सूरत (Surat) की 1081 इकाइयों पर रु. 8208, अहमदाबाद (Ahmedabad) की 297 इकाइयों पर रु. 3269 लाख, राजकोट (Rajkot) की 580 इकाइयों पर रु. 5233 लाख और वडोदरा (Vadodara)की 292 औद्योगिक इकाइयों पर रु. 8976 लाख बकाया है. 1186 करोड़ रुपए बिजली बिल बकाया होने के बावजूद इन औद्योगिक इकाइयों के खिलाफ वसूली की कोई कार्रवाई नहीं की जा रही.

Please share this news