Tuesday , 13 April 2021

भोपाल मंडल के सांची और होशंगाबाद समेत आठ स्टेशनों को मिला आइएसओ प्रमाण पत्र

ISO Registration Certificate

भोपाल (Bhopal) . पर्यावरण संरक्षण और स्वच्छता की दिशा में बेहतर काम करने वाले भोपाल (Bhopal) रेल मंडल के आठ स्टेशनों को 14001:2015 आईएसओ प्रमाण पत्र मिला है. इसमें प्रसिद्ध पर्यटन स्थल सांची के अलावा गुना, गंज बासौदा, शिवपुरी, बीना, इटारसी, होशंगाबाद, विदिशा स्टेशन शामिल है. राजधानी के मुख्य स्टेशन भोपाल (Bhopal) के पास यह प्रमाण पत्र वर्ष 2019 से ही है. भोपाल (Bhopal) रेल मंडल के डीआरएम उदय बोरवणकर ने इसकी पुष्टि की है.

गौरतलब है कि भोपाल (Bhopal) रेल मंडल में छोटे-बड़े मिलाकर कुल 92 रेलवे (Railway)स्टेशन हैं. इनमें प्रमुख स्टेशन भोपाल (Bhopal) , हबीबगंज, इटारसी, बीना हैं. इसके अलावा होशंगाबाद, हरदा, विदिशा, गुना (guna) जैसे स्टेशन रेलवे (Railway)भी हैं. मंडल के आठ रेलवे (Railway)स्टेशनों को आइएसओ प्रमाण पत्र मिलने पर भोपाल (Bhopal) रेल मंडल के डीआरएम उदय बोरवणकर ने खुशी जताई है.

बता दें कि आइएसओ 14001:2015 प्रमाण पत्र पर्यावरण संरक्षण व स्वच्छता के क्षेत्र में अच्छे कार्य करने जैसे स्टेशन पर बेहतर साफ-सफाई, यात्रियों (Passengers) के लिए अच्छी पेयजल व्यवस्था, जल और ऊर्जा संरक्षण के क्षेत्रों में बेहतर और उत्कृष्ट कार्य और उसके अच्छे परिणाम प्रतीत होने पर दिया जाता है. भोपाल (Bhopal) रेल मंडल इन सभी क्षेत्रों में तेजी से काम कर रहा है. रेलवे (Railway)ने सभी स्टेशनों को पॉलीथीन व प्लास्टिक मुक्त बनाने का काम किया है. इसके आलावा पानी बचाने की दिशा में बेहतर काम भी किए हैं.

बता दें कि रेल मंडल ने सांची समेत अन्य स्टेशनों पर पर्यावरण संरक्षण की दिशा में भी काम किया है. गार्डन विकसित करना, पानी को सहेजने के लिए अतिरिक्त कमेटी बनाना, स्टेशन की सुंदरता बढ़ाने के लिए सांस्कृतिक विरासत को दर्शाने वाली पेंटिंग्स बनवाना, यात्रियों (Passengers) को जागरूक करने संदेश लिखवाना, ऊर्जा बचाने के लिए एलइडी लाइट्स लगाना, सौर ऊर्जा पैदा करने के लिए सोलर पैनल लगाना आदि कई महत्वपूर्ण काम किए जा रहे हैं.

डीआरएम उदय बोरवणकर ने कहा कि आने वाले समय में बाकी रेलवे (Railway)स्टेशन को भी आइएसओ प्रमाण पत्र दिलवाने का प्रयास करेंगे. इसके लिए पिछले एक साल से काम तेज कर दिया है. स्टेशनों को साफ-सुथरा और सुंदर बना रहे हैं. सुंदरीकरण के लिए स्टेशन परिसर में गार्डन विकसित करने का काम शुरू कर दिया है. पार्किंग व्यवस्थित कर रहे हैं. संबंधित स्टेशन और उनके क्षेत्र से जुड़ी सांस्कृतिक विरासत को पेंटिंग के जरिए स्टेशन पर जगह दी है. यात्रियों (Passengers) से जुड़ी सुविधाओं का विस्तार किया है.

Please share this news