Friday , 25 June 2021

अर्थशास्त्री अशोक लाहिड़ी को मिला बंगाल के ‘लाल गढ़’ में कमल खिलाने का जिम्मा

कोलकाता (Kolkata) . पश्चिम बंगाल (West Bengal) विधानसभा के मद्देनजर भारतीय जनता पार्टी ने पांचवें, छठे, सातवें और आठवें चरण की 13 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी की है. इसमें जानेमाने अर्थशास्त्री अशोक कुमार लाहिड़ी को वामपंथी मोर्चे के गढ़ बालुरघाट से टिकट दिया गया है. लाहिड़ी का मानना ​​है कि बंगाल चुनावों में उनके पास रूस और चीन में किए गए आर्थिक सुधारों को उजागर करने का अच्छा मौका है. लाहिड़ी के मुताबिक, लोग हमेशा समय के साथ बदलने के लिए तैयार रहते हैं.

अशोक कुमार लाहिड़ी ने कहा कि बंगाली मूर्ख नहीं हैं. ऐसे में यह मान लेना सही नहीं है कि बंगाल के लोग बदलाव नहीं चाहते. उन्होंने, ‘सोवियत संघ ने 70 साल बाद साम्यवाद को छोड़ दिया था. फिर चीन ने सुधार किया. ‘अशोक लाहिड़ी ने चुनाव में अपनी जीत को लेकर कहा कि उन्हें विजय हासिल होगी, इसमें कोई शक नहीं है. बालुरघाट दक्षिण दिनाजपुर जिले का निर्वाचन क्षेत्र है. 1977 यानी पिछले साढ़े तीन दशकों से ये वाम मोर्चा साथी क्रांतिकारी सोशलिस्ट पार्टी का गढ़ रहा है. पिछले एक दशक में बीजेपी ने 2019 में बालुरघाट की संसदीय सीट जीती थी. टीएमसी ने 2011 में ये विधानसभा सीट जीती थी. लाहिड़ी ने कहा कि उनका मानना ​​है कि बालुरघाट और बंगाल के लोग परिवर्तन (बदलाव) की जरूरत को समझते हैं.

Please share this news