Friday , 16 April 2021

कोविड-19 टीकाकरण ड्राई रन वैक्सीन पर अफवाहों से बचने की जरूरत : डॉ. हर्षवर्धन

नई दिल्ली (New Delhi) . राजधानी दिल्ली में कोविड-19 (Covid-19) के का ड्राई रन पूर्वाभ्यास करने के लिए तीन स्थानों का चयन किया गया है. राजधानी दिल्ली में शाहदरा के गुरु तेग बहादुर अस्पताल, दरियागंज का शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और द्वारका के वेंकटेश्वर अस्पताल का चयन ड्राई रन के लिए किया गया है. स्वास्थ्य बुलेटिन के मुताबिक, तीन चयनित स्थानों पर कोविड टीकाकरण के लिए होने वाले ड्राई रन के लिए शुक्रवार (Friday) को दिल्ली के स्वास्थ्य सचिव की अध्यक्षता में एक वीडियो कॉन्फ्रेंससिंग किया गया. इन तीन स्थान एक शाहदरा जिले में, एक दक्षिण पश्चिम जिले में और एक मध्य जिले में है.

केंद्र सरकार (Central Government)ने कहा था कि दो जनवरी तक सभी राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों में पूर्वाभ्यास पूरा हो जाए ताकि योजना और कार्यान्वयन के बीच जुड़ाव की जांच हो सके और चुनौतियों की पहचान की जा सके. सेंट्रल दिल्ली के डीएम ने कहा कि मध्य दिल्ली में 77 टीकाकरण केंद्रों की पहचान की गई है. हम भारत सरकार द्वारा निर्धारित सभी दिशानिर्देशों का पालन कर रहे हैं. हम वैक्सीन की ट्रांसपोर्टेशन सुरक्षा पर भी नजर बनाए हुए हैं. डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि मैं लोगों से अपील करता हूं कि वे अफवाहों पर ध्यान न दें. वैक्सीन की सुरक्षा और प्रभाव सुनिश्चित करना हमारी प्राथमिकता है. पोलियो टीकाकरण के दौरान विभिन्न प्रकार की अफवाहें फैली हुई थीं, लेकिन लोगों ने टीका लगवाया और भारत अब पोलियो मुक्त हो गया है.

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि 4 राज्यों में ड्राई रन के बाद प्राप्त फीडबैक को टीकाकरण के लिए दिशानिर्देशों में शामिल किया गया था और सभी राज्यों केंद्रशासित प्रदेशों में के ड्राई रन को नए दिशानिर्देशों के अनुसार चलाया जा रहा है. वास्तविक टीका देने के अलावा, ड्रिल के दौरान हर प्रक्रिया का पालन किया जा रहा है. वैक्सीन के इस्तेमाल को लेकर फैलाई जा रही अफवाहों पर केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि देश के लोगों को मेरी अपील है कि वो किसी भी अफवाह में न जाएं. भारत सरकार देश के लोगों को कोविड-19 (Covid-19) से सुरक्षित रखना चाहती है, वैक्सीन का विकास उसी प्रक्रिया का हिस्सा है. डॉ. हर्षवर्धन ने कहा कि वैक्सीन पर अफवाहों से बचने की जरूरत है. वैक्सीन के साइड इफेक्ट होने पर इमरजेंसी (Emergency) रूम बनाए गए हैं. हमारा रिकवरी रेट दुनिया में सबसे अच्छा है. 119 जिलों के 207 केंद्रों पर कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन चल रहा है. ड्राई रन के दौरान वैक्सीन के ट्रांसपोर्टेशन से टीकाकरण तक पहलू की बारीकी से जांच होगी. बारीकी से चीजों की गाइडलाइन बनाई गई हैं. दिल्ली: दरियागंज के मैटरनिटी और चाइल्ड केयर सेंटर में कोरोना (Corona virus) वैक्सीनेशन के लिए ड्राई रन चल रहा है. कोरोना (Corona virus) (कोविड-19 (Covid-19) ) के नए मामलों की तुलना में स्वस्थ होने वालों की संख्या अधिक होने से एक्टिव केसों में कमी का दौर जारी है तथा अब इनकी संख्या घट कर 5,200 के करीब रह गई है. दिल्ली में शुक्रवार (Friday) को एक्टिव केस 153 और घटकर 5,358 रह गए. राजधानी में स्वस्थ होने वाले लोगों की संख्या में वृद्धि होने से एक्टिव केसों में कमी दर्ज की गई है.

दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार, शुक्रवार (Friday) को 585 नए मामले सामने आने के बाद संक्रमितों की कुल संख्या 6,25,954 तक पहुंच गई है, जबकि 717 और मरीजों के स्वस्थ होने से कोरोनामुक्त लोगों की संख्या बढ़कर 6,10,039 हो गई. इस दौरान 21 और मरीजों की मौत होने से मृतकों का आंकड़ा 10,557 पर पहुंच गया है. राजधानी में मृत्यु दर महज 1.69 फीसदी रह गई है. मृतकों के मामले में पूरे देश में दिल्ली चौथे स्थान पर है. राजधानी में पिछले 24 घंटों के दौरान 80,565 जांच की गईं. इसके साथ ही अब तक हुई जांच संख्या बढ़कर 87.40 लाख के पार पहुंच गई है. प्रत्येक दस लाख आबादी पर जांच का औसत 4,60,020 है. इस बीच राजधानी में कंटेनमेंट जोन की संख्या में गिरावट का दौर जारी है. फिलहाल दिल्ली में कंटेनमेंट जोन की संख्या घट कर 3,874 रह गई है.

Please share this news