डीजीजीआई गुरुग्राम ने 121 करोड़ रु की फर्जी आईटीसी से जुड़ी फर्जी कंपनियों के 3 मास्टरमाइंड गिरफ्तार किये – Daily Kiran
Thursday , 28 October 2021

डीजीजीआई गुरुग्राम ने 121 करोड़ रु की फर्जी आईटीसी से जुड़ी फर्जी कंपनियों के 3 मास्टरमाइंड गिरफ्तार किये

नई दिल्ली (New Delhi) . जीएसटी इंटेलिजेंस महानिदेशालय (डीजीजीआई) की गुरुग्राम (Gurugram)जोनल यूनिट (जीजेडयू), हरियाणा (Haryana) ने जाली दस्तावेजों पर कई फर्जी कंपनियां खड़ी करने और उनका संचालन करने तथाबिना किसी वास्तविक रसीद या माल या सेवाओं की आपूर्ति के, बिल जारी कर फर्जी इनपुट टैक्स क्रेडिट देने के आरोप में एक चार्टर्ड अकाउंटेंट (सीए) सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया है. अब तक की गई जांच से यह पता चला है कि गिरफ्तार किए लोगों में से एक ने कम से कम 13 कंपनियां बनायीं और कुल 121 करोड़ रुपये के धोखाधड़ी वाले आईटीसी का लाभ उठाने और उसे दूसरों को देने में संलिप्त रहा है. यह भी सामने आया है कि जिस व्यक्ति ने फर्जी/नकली कंपनियां बनायी थीं, उसने एक कमीशन एजेंट की मिली भगत से काम किया. यह कमीशन एजेंट बिना माल या सेवाओं की आपूर्ति के ये बिल, कमीशन के लिए, स्थापित कंपनियों को सीधे और अलग-अलग दलालों के माध्यम से बेचता था. कमीशन एजेंट को भी गिरफ्तार कर लिया गया है. वित्तीय आवाजाही की इस श्रृंखला में यह सामने आया है कि स्थापित कंपनियां (अंतिम उपयोगकर्ता) इन नकली कंपनियों को हस्तांतरण करती थींऔर इसके बाद यहां से राशि एक निजी लिमिटेड कंपनी के खाते में भेजी जाती थी जहां से उक्त चार्टर्ड अकाउंटेंट अपनी कंपनी के साथ-साथ अपना खुद का कमीशन काटने के बाद यह राशि नकदी में निकालता था और वापस कर देता था. हर दिन लगभग 30-40 लाख रुपये का नकद लेन-देन किया जा रहा था.

Please share this news

Check Also

कांग्रेस देश और प्रदेश में नाम की बची, ये क्या कम उपलब्धि है:जयराम

करसोग . ब्रिगेडियर खुशाल ठाकुर का चुनाव चिन्ह कमल नंबर एक पर है और वो …