डेल्टा प्लस वेरिएंट : क्या यह तीसरी लहर की आहट?

नई दिल्‍ली . केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा है कि कोरोना (Corona virus) का डेल्टा वेरिएंट दुनिया के 80 देशों में मौजूद है, जबकि डेल्टा प्लस (Delta Plus) वेरिएंट 9 देशों में पाया गया है. क्या यह तीसरी लहर की आहट है?

delta-plus-varient

केन्द्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने कहा कि डेल्टा प्लस वेरिएंट अमेरिका, ब्रिटेन, स्विट्‍जरलैंड, जापान, पोलैंड, नेपाल, चीन और रूस में पाए गए हैं. वहीं भारत में डेल्टा प्लस वेरिएंट के 22 मामले सामने आए हैं. इनमें सर्वाधिक 16 महाराष्ट्र (Maharashtra) में एवं बाकी मामले मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) और केरल (Kerala) में मिले हैं. हालांकि महाराष्ट्र (Maharashtra) के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे ने कहा कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में डेल्टा प्लस वेरिएंट के 21 मामले सामने आए हैं. भूषण ने कहा कि इस संबंध में महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) और केरल (Kerala) को पत्र भी लिखा गया है.

यह भी पढ़ें : डेल्टा प्लस वैरिएंट के नए मामलों से सरकार की चिंता बढ़ी

महिलाओं की संख्या कम : नीति आयोग के स्वास्थ्य सदस्य डॉ. वीके पाल ने कहा कि सोमवार (Monday) को जितने लोगों को वैक्सीन लगाई गई थी उनमें पुरुषों की 53 प्रतिशत थी, जबकि महिलाओं की संख्‍या 46 प्रतिशत. उन्होंने कहा कि इस असंतुलन को दूर करने के प्रयास किए जा रहे हैं. महिलाओं के बीच टीके को लेकर जागरूकता पैदा की जा रही है.

पॉल ने ग्रामीण क्षेत्रों में भी टीकों पर खास बल दिया गया. सोमवार (Monday) को ग्रामीण क्षेत्रों में 63.7 फीसदी लोगों को वैक्सीन लगाई गई, जबकि 36 प्रतिशत लोगों को शहरी क्षेत्रों में वैक्सीन लगाई गई.


Please share this news