Monday , 30 March 2020
दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी का आओ हाथ बढ़ाये करोनो के खिलाफ जंग कार्यक्रम

दिल्ली प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष चौधरी का आओ हाथ बढ़ाये करोनो के खिलाफ जंग कार्यक्रम


नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार ने आज “आओ हाथ बढ़ायें -COVID -19 के खिलाफ जंग ” कार्यक्रम की शुरुआत की. इसमें चौधरी अनिल कुमार ने ना सिर्फ कांग्रेस के कार्यकर्ताओं से बल्कि दिल्ली की आम जनता से भी अपील की जो भी जहाँ रहता है वहां अपने आसपास रहने वाले 1 -5 गरीब परिवारों को आटा, दाल, चावल व साबुन की टिक्कियां देकर इस संकट की घड़ी में मदद करें. इस कार्यक्रम की शुरुआत करते हुए चौधरी अनिल कुमार ने खुद पहल की व आज अपने व्यक्तिगत खर्चे पर 6 परिवारों को आटा, दाल,  चावल और साबुन की टिक्कियाँ बाँटी.

चौधरी अनिल कुमार ने बताया की जब आज वो अपने घर पर बैठे थे तब राजकुमार नाम का एक व्यक्ति जो चौक पर मज़दूरी करता है,उनके पास  आया व उसने उन्हें अपनी व्यथा सुनाई की किस प्रकार दिल्ली बंद होने के कारण उसका रोज़गार चला गया व घर में खाने को भी कुछ नहीं है.  चौधरी अनिल कुमार ने आगे बताया की गौतम सदा नाम का व्यक्ति यमुना खादर जो की पटपड़ गंज विधानसभा के अंतर्गत आता है ठेकेदार के अंतर्गत खेत में मज़दूरी करता था, उसको 3 महीने से वेतन नहीं मिला था और अब दिल्ली में लॉकडाउन (Lockdown) के कारण नौकरी भी चली गयी थी.  इस व्यक्ति ने कल आर्थिक तंगी के कारण आत्महत्या (Murder) कर ली.

चौधरी अनिल कुमार को इन दोनों घटनाओं ने झकझोर दिया जिसके बाद उन्होंने “आओ हाथ बढ़ाये -COVID -19 के खिलाफ जंग ” कार्यक्रम की शुरुआत की. चौधरी अनिल कुमार ने कहा की क्यूंकि दिल्ली सहित पूरे भारत में सरकार (Government) द्वारा 21 दिन के लॉकडाउन (Lockdown) की घोषणा हुई है जिसके कारण मज़दूर,ई -रिक्शा चलाने वाले, रेहड़ी – पटरी लगाने वाले, घरों में काम करने वाले, दिहाड़ी मज़दूर बेरोज़गार हो गए हैं, क्यूंकि घर से ना निकलने के लिए आदेश हैं.

उन्होंने बताया की ऐसे समय में अभी तक किसी भी प्रकार की सरकारी मदद लोगों तक नहीं पहुंच पा रही है. दिल्ली सरकार (Government) ने रैन बसेरों में तोह मुफ्त खाने की व्यवस्था शुरू कर दी है परन्तु अनधिकृत कालोनियों, झुग्गी – झोंपड़ियों आदि में रहने वाले गरीब लोगो को रैन बसेरों में मिलने वाले खाने का फायदा नहीं मिल पा रहा है क्यूंकि लोगों को सरकार (Government) ने घर से ना निकलने के आदेश दिए हुए हैं.  ऐसे हालातों में हम सब कांग्रेसी कार्यकर्ताओं की मानवता के तहत नैतिक ज़िम्मेदारी बन जाती है की हम जहाँ भी रहते हैं, अपने आसपास रहने वाले गरीब ज़रूरतमंदों की मदद करें.  हम अपनी क्षमतानुसार 1 -5 परिवारों की आटा, दाल, चावल, साबुन की टिक्की देकर मदद कर सकते हैं.  
चौधरी अनिल कुमार ने कांग्रेस के नेता, कार्यकर्ता व आम जन को इस मुहीम के तहत लोगों की मदद करने की अपील की. हालाकि उन्होंने इस बात पर ज़ोर दिया की यह कार्य सबको अपना बचाव करते हुए करते हुए करना है.  
चौधरी अनिल कुमार ने की बताया उन्होंने इस मुहीम के तहत निम्न लोगों की मदद की
1. वशिष्ठ राम (दिहाड़ी मज़दूर, परिवार में 6 सदस्य)
2. मुन्नी (वसुंधरा एन्क्लेव में घर में खाना बनाने का काम, परिवार में 7  सदस्य)
3. राजकुमार (दिहाड़ी मज़दूर, परिवार में 5  सदस्य)
4. भोला  (मोची)
5. प्रवीण (नॉएडा में प्राइवेट नौकरी)
6. गौतम सदा का परिवार (विधवा समेत परिवार में 5 बच्चे)
चौधरी अनिल कुमार ने कहा की कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गाँधी व कांग्रेस के वरिष्ठ नेता राहुल गाँधी जी ने केंद्र सरकार (Government) से असंगठित क्षेत्र के अलावा छोटे और मध्यम वर्ग के व्यापारियों को आर्थिक राहत पैकेज देने के लिए कहा था. उन्होंने बताया की केंद्र सर्कार ने तो आज आर्थिक पैकेज देने की घोषणा कर दी है परन्तु दिल्ली सरकार (Government) ने अभी तक ऐसे किसी पैकेज की घोषणा नहीं की है. चौधरी अनिल कुमार ने बताया की हमने पहले ही 6000 करोड़ के राहत पैकेज की मांग की है ताकि ना सिर्फ व्यापारी वर्ग बल्कि गरीब मज़दूरों को भी ऐसे समय में मदद मिल सके. एन्ड्रूज़ गंज के निगम पार्षद व प्रदेश उपाध्यक्ष श्री अभिषेक दत्त ने अपने क्षेत्र में 100 गरीब परिवारों को आटा, दाल, चावल व साबुन की टिक्कियाँ दिल्ली प्रदेश कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष चौधरी अनिल कुमार के द्वारा वितरित करवायी.इस अवसर पर बोलते हुए चौधरी अनिल कुमार ने कहा की हमने दिल्ली कांग्रेस की ओर से पूरी दिल्ली में कांग्रेस नेताओं व कार्यकर्ताओं की टीम बनायी है जोकि लोगों की मांग पर उनके घर जाकर राशन बांटने का कार्य करेगी.