दमोह विधानसभा उपचुनाव

भोपाल (Bhopal) . दमोह उपचुनाव जीतने के लिए कांग्रेस एड़ी-चोटी का जोर लगा रही है. रणनीति के तहत के कुछ नए और अहम फैसले भी लिए जा रहे हैं. अब कांग्रेस ने तय किया है कि उपचुनाव में पार्टी के उन्हीं नेताओं को चुनाव प्रचार के लिए भेजा जाएगा जो पूरा समय क्षेत्र के लिए दे सकते हों. केवल दो-चार घंटे क्षेत्र में जाकर सोशल मीडिया (Media) पर छा जाने वाले नेताओं से पार्टी परहेज करेगी.

केवल चेहरा दिखाने वाले नेताओं की वजह से कई बार पार्टी को नुकसान भी उठाना पड़ता है. पार्टी उपचुनाव को हर हाल में जीतना चाहती है. लिहाजा प्रचार के लिए समर्पित नेताओं को ही तवज्जो दी जा रही है. नेताओं को जिस क्षेत्र में वे प्रचार के लिए जाना चाहते हैं उसकी जानकारी पीसीसी को उपलब्ध करवानी होगी.

Please share this news