ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में ‘‘त्वरित और बड़े पैमाने पर’’ कटौती करे देश – Daily Kiran
Sunday , 24 October 2021

ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में ‘‘त्वरित और बड़े पैमाने पर’’ कटौती करे देश

जिनेवा . संयुक्त राष्ट्र प्रमुख ने गुरुवार (Thursday) को ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में ‘‘त्वरित और बड़े पैमाने पर’’ कटौती करने की अपील की, ताकि वैश्विक तापमान में बढ़ोतरी को रोका जा सके. संयुक्त राष्ट्र महासभा की अगले हफ्ते होने वाली वार्षिक बैठक से पहले एंतोनियो गुतारेस ने सरकारों को आगाह किया कि अनुमान की तुलना में जलवायु परिवर्तन ज्यादा तेजी से हो रहा है, और जीवाश्म ईंधनों से होने वाला ग्रीन हाउस गैस उत्सर्जन बढ़ गया है.गुतारेस ने कहा कि हाल में अमेरिका में इडा चक्रवात से लेकर पश्चिमी यूरोप में बाढ़ और प्रशांत महासागर के उत्तर-पश्चिम में खतरनाक लू से पता चलता है कि जलवायु से जुड़ी आपदाओं से कोई भी देश सुरक्षित नहीं है. उन्होंने कहा, ‘‘ये बदलाव सबसे बुरे दौर की शुरुआत भर हैं.उन्होंने सरकारों से अपील की कि 2015 के पेरिस जलवायु समझौते के लक्ष्यों को पूरा करें.

जब तक ग्रीन हाउस गैसों के उत्सर्जन में तुरंत बड़े पैमाने पर कटौती नहीं होगी, तब तक हम वैश्विक तापमान को 1.5 डिग्री सेल्सियस तक सीमित करने में सक्षम नहीं होने वाले है. ‘यूनाईटेड इन साइंस 21’ नाम की रिपोर्ट में संयुक्त राष्ट्र की छह संस्थाओं और वैज्ञानिक संगठनों ने शोध कर निष्कर्ष निकाला है कि मानव निर्मित उत्सर्जन, रिकॉर्ड उच्च तापमान और आपदाओं के बीच सीधा संबंध है और इनका व्यक्तियों एवं समाज पर काफी असर पड़ता है जिसमें ‘‘केवल तापमान बढ़ने के कारण अरबों घंटे के काम का नुकसान’’ भी शामिल है. उन्होंने बताया कि वायुमंडल में पहले ही काफी उत्सर्जन है,इसकारण आगे भी प्रभाव अवश्य पड़ने वाला है.

 

Please share this news

Check Also

नईम और मुशफिकुर के शानदार प्रदर्शन से बांग्लादेश ने श्रीलंका को 172 रनों का लक्ष्य दिया

शारजाह . मोहम्मद नईम और मुशफिकुर रहीम के अर्धशतकों से बांग्लादेश ने टी20 विश्व कप …