Friday , 16 April 2021

कोरोना वैक्सीन का ड्राय रन 2 जनवरी को

नई दिल्‍ली . स्वास्थ्य मंत्रालय की उच्च स्तरीय बैठक में गुरुवार (Thursday) को अहम फैसला लिया गया है. देश के सभी राज्यों में दो जनवरी को कोरोना वैक्सीन का ड्राय रन होगा. इसके लिए 96 हजार डॉक्टरों (Doctors) को ट्रेनिंग दी गई है. इसके लिए हेल्पलाइन नंबर 104 जारी किया गया है. केंद्र सरकार (Central Government)ने इसके लिए सभी राज्यों को अलर्ट रहने का निर्देश दिया है.

covid-vaccine-dry-run

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण के नेतृत्व में शुक्रवार (Friday) को उच्च स्तरीय बैठक में तैयारियों की समीक्षा की गई जिसमें राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश के अधिकारी भी शामिल थे. प्रत्येक राज्य की राजधानी की 3 जगहों पर वैक्सीन का ड्राई रन किया जाएगा. इसमें कहा गया कि कुछ राज्य जो मुश्किल भौगोलिक स्थिति में बसे हैं वो ड्राई रन के लिए जिलों को भी शामिल कर सकते हैं.

महाराष्ट्र (Maharashtra) और केरल (Kerala) को राजधानी के अलावा दूसरे बड़े शहरों में भी ड्राई रन कराने की छूट दी गई है. तैयारी और लागू करने के बीच में आने वाले गैप को समझने के लिए ड्राई रन कराया जाएगा जिससे वैक्सीन लोगों तक पहुंचाने में आने वाले समय में कोई परेशानी न हो.

स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा 20 दिसंबर को जारी ऑपरेशनल गाइड लाइंस के अनुसार ही ड्राई रन कराया जाएगा. तीनों सेशन साइट्स पर मेडिकल ऑफिसर 25 लोगों (स्वास्थ्यकर्मियों) को चिन्हित करेगा. राज्य और केंद्र शासित प्रदेशों को कहा गया है कि वो वैक्सीन लगाए गए लोगों का डेटा को-विन पर अपलोड करें.


ड्राई रन का पहला चरण 28-29 दिसंबर को आंध्र प्रदेश, असम, गुजरात (Gujarat) और पंजाब (Punjab) में आयोजित किया गया. इस दौरान कोई बड़ा ऑपरेशनल मुद्दा सामने नहीं आया. कई देशों में लोगों को कोरोना का वैक्सीन लगने शुरू हो गए हैं. भारत भी इस सिलसिले में तैयारियों में लगा हुआ है और बड़ी वैक्सीन कंपनियां और सरकार की तरफ से कहा गया है कि बहुत जल्द भारत में भी टीकाकरण शुरू हो जाएगा.

सरकार ने पहले ही लगभग 83 करोड़ सीरिंज की खरीद के आदेश दे दिए हैं. इसके अतिरिक्त, लगभग 35 करोड़ सिरिंजों के लिए निविदा भी आमंत्रित की गई हैं. इन्हें कोविड टीकाकरण के लिए उपयोग किया जाएगा.


Please share this news