Thursday , 24 June 2021

कोवैक्सीन के दो डोज लेने के बावजूद कोरोना संक्रमित हुआ स्वास्थ्य कर्मी, मौत

उज्जैन . मध्य प्रदेश के उज्जैन में कोरोना वैक्सीन के दो डोज लेने के बाद भी एक स्वास्थ्य कर्मी की मौत हो गई. फिलहाल उज्जैन में अभी तक कुल संक्रमित मरीजों की संख्या 5947 है. इनमें 83 नए संक्रमित मरीज है. वही एक मरीज की मौत भी हो गई है जिसके बाद मौत का आंकड़ा कुल 108 हो गया है. जिस संक्रमित रामाराव की मौत हुई है उसे वैक्सीन के दोनों डोज लग चुके थे.

जानकारी के मुताबिक, मलेरिया विभाग में फिल्ड वर्कर के रूप में पदस्थ रामाराव को आठ दिन पहले ही वैक्सीन का दूसरा डोज लगा था इस से पहले उन्होंने 9 फरवरी को टिके का पहला डोज लगवाया था. 10 मार्च को ही उनकी तबियत बिगड़ी जिसमें बुखार, हाथ पांव में दर्द के साथ सांस लेने में तकलीफ होने लगी. उन्हें 18 मार्च को निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया, जिसके बाद 21 मार्च को माधव नगर अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया. इसके बाद उनकी हालत में सुधार नहीं हुआ और लगातार तबियत बिगड़ती चली गई जिसके बाद 25 मार्च को वेंटिलेटर पर रखा गया और आखिरकार उनकी मौत हो गई. वहीं सारे मामले से अंजान उज्जैन कलेक्टर (Collector) आशीष सिंह ने कहा कि यह मामला मेरे संज्ञान में नहीं है. इतना जरुर है कि दोनों डोज लगने के बाद करीब 15 से 20 दिन बाद शरीर में इम्युनिटी बनती है. ऐसे में वैक्सिनेशन के दोनों डोज लगने के बाद भी सुरक्षा के सारे उपाय अपनाने चाहिए. वैक्सिनेशन सभी को करवाना चाहिए. टिका लगने के बाद भी सतर्क रहे.

Please share this news