Friday , 27 November 2020

कोरोना संकट : गुजरात-एमपी में नाइट कर्फ्यू समेत कई प्रतिबंध, हरियाणा में स्कूल फिर बंद

नई दिल्ली (New Delhi) . वैश्विक महामारी (Epidemic) कोरोना ने एक बार फिर देश में कहर बरपाना शुरू कर दिया है. कई राज्यों में कोरोना का संक्रमण एक बार फिर तेजी से बढ़ने लगा है. मध्य प्रदेश और गुजरात (Gujarat) में कोरोना संक्रमण की रफ्तार को देखते हुए राज्य के कई शहरों में कर्फ्यू लगा दिया गया है. वहीं, हरियाणा (Haryana) में कोरोना संक्रमण की वजह से स्कूलों को 30 नवंबर तक फिर से बंद रखने का ऐलान किया गया है. देश की राजधानी दिल्ली में केजरीवाल सरकार ने कोविड-19 (Covid-19) नियमों में सख्ती कर दी है तो वहीं, कोरोना संक्रमण के फिर रफ्तार पकड़ने पर अन्य राज्य भी कड़े फैसले ले रहे हैं. मध्य प्रदेश में भोपाल (Bhopal) , इंदौर (Indore) , ग्वालियर (Gwalior), रतलाम और विदिशा में आज यानी 21 नवंबर की रात से नाइट कर्फ्यू लागू किया जा रहा है.

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान ने साफ कर दिया कि राज्य में अब दोबारा से लॉकडाउन (Lockdown) नहीं लगेगा. लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से राज्य सरकार (State government) ने 5 शहरों में नाइट कर्फ्यू और पाबंदियां लागू करने का फैसला किया है. इंदौर (Indore) , भोपाल (Bhopal) , ग्वालियर (Gwalior), रतलाम और विदिशा में शनिवार (Saturday) यानी 21 नवंबर से हर दिन रात 10 से सुबह 6 बजे तक नाइट कर्फ्यू रहेगा.

इन शहरों में रात के कर्फ्यू के दौरान मालवाहक वाहनों का आवागमन जारी रहेगा. इसके अलावा फैक्ट्री में काम करने वाले श्रमिक भी आ-जा सकेंगे. इन पर किसी प्रकार की रोक नहीं रहेगी. साथ ही राज्य में 8वीं तक के स्कूल 31 दिसंबर तक बंद रखने का फैसला किया गया है.

वहीं, गुजरात (Gujarat) के सूरत (Surat), वडोदरा (Vadodara)और राजकोट में भी आज से नाइट कर्फ्यू लागू हो रहा है. जबकि अहमदाबाद (Ahmedabad) में कल रात 9 बजे से सोमवार (Monday) सुबह तक का कर्फ्यू लागू है. अहमदाबाद (Ahmedabad) के साथ सूरत (Surat), वडोदरा (Vadodara)और राजकोट में सुबह 6 बजे तक दूध और दवाई को छोड़कर सभी दुकानें बंद रहेंगी. इसके अलावा राजस्थान (Rajasthan) के सभी जिलों में आज से धारा 144 लागू करने के निर्देश दिए गए हैं. जबकि हरियाणा (Haryana) में 30 नवंबर तक सभी स्कूल फिर से बंद कर दिए गए हैं. हरियाणा (Haryana) में स्कूल खुलने के दो हफ्ते बाद ही कोरोना के मामले इतनी तेजी से बढ़े कि सरकार को ये फैसला वापस लेना पड़ा. जानकारी के मुताबिक सिर्फ 2 हफ्ते में 335 छात्र (student) और 38 टीचर कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. अब हरियाणा (Haryana) सरकार ने 30 नवंबर तक स्कूलों को फिर से बंद कर दिया है. बता दें कि हरियाणा (Haryana) में भी कोविड-19 (Covid-19) के मामलों में तेजी से वृद्धि हो रही है. एक दिन में शुक्रवार (Friday) को राज्य में 3,104 नए मरीज सामने आए हैं, जबकि संक्रमण से 25 लोगों की मौत हुई है. राज्य में फिलहाल रिकवरी दर 89.50 प्रतिशत है.