Tuesday , 18 February 2020
कोरोना : चीन पर संक्रमितों की संख्या छिपाने का आरोप, सैटेलाइट तस्वीरों में दिखी सल्फर गैस, 14,000 शव जलाने की आशंका

कोरोना : चीन पर संक्रमितों की संख्या छिपाने का आरोप, सैटेलाइट तस्वीरों में दिखी सल्फर गैस, 14,000 शव जलाने की आशंका


बीजिंग. चीन में कोरोना वायरस से मरने वालों की संख्या 1000 के पार हो गई है और 40 हजार से ज्यादा संक्रमित हैं. चीन की सरकार पर वास्तविक संख्या छुपाने और बड़े पैमाने पर शवों को गोपनीय तरीके से जलाने के आरोप लग रहे हैं. चीन में शव जलाने की परंपरा नहीं है. सोमवार को वुहान की सैटेलाइट तस्वीर सामने आई. इसमें आग के बड़े गोले के रूप में सल्फर डाई ऑक्साइड गैस दिख रही है. वैज्ञानिकों के मुताबिक ऐसा मेडिकल वेस्ट या शवों को जलाने से हो सकता है.

इंटेलवेव के मुताबिक इतना धुआं करीब 14,000 शवों को जलाने पर निकलता है. मीडिया ने वुहान की सैटेलाइट इमेज पर संदेह जताया है. अमेरिका के पब्लिक हेल्थ डिपार्टमेंट के मुताबिक शवों को जलाने पर सल्फर गैस के अलावा पारा, डाईऑक्सिन, हाइड्रोक्लोरिक एसिड जैसे केमिकल भी निकलते हैं. एक रिपोर्ट के मुताबिक अगले कुछ हफ्तों में वुहान में संक्रमित लोगों की संख्या 5 लाख तक पहुंच सकती है. इस शहर में 23 जनवरी से ही 1 करोड़ 10 लाख लोग अपने-अपने घरों में कैद हैं. लंदन स्कूल ऑफ हाइजीन एंड ट्रॉपिकल मेडिसिन ने वुहान में वायरस के फैलने के तरीकों का अध्ययन किया. इसमें पता चला है कि संक्रमण की यही रफ्तार रही तो फरवरी खत्म होते-होते शहर की 5 प्रतिशत आबादी यानी 5 लाख से ज्यादा लोग कोरोना वायरस से संक्रमित हो जाएंगे.