Tuesday , 27 October 2020

कांस्टेबल बाबूलाल जाट का मुकदमा दर्ज हो और एडिशनल एसपी मुकेश सांखला को अविलंब निलंबित करने की मांग

उदयपुर (Udaipur). वल्लभनगर एनडीपीएस तेजाराम प्रकरण में शिव सेना, मेवाड़ संभाग ने जिलाध्यक्ष सुधीर शर्मा व युवा सेना जिलाध्यक्ष गौरव नागदा के नेतृत्व में पुलिस (Police) महानिदेशक और मुख्यमंत्री (Chief Minister) के नाम पुलिस (Police) अधीक्षक को ज्ञापन देकर एडिशनल एसपी मुकेश सांखला को तुरंत निलंबित करने एवं कांस्टेबल बाबूलाल जाट द्वारा एडिशनल एसपी मुकेश सांखला के विरुद्ध दिनांक 2-9-2020 जरिए ईमेल सूरजपोल थाना, पुलिस (Police) अधीक्षक और पुलिस (Police) महानिरीक्षक को परिवाद भेजा उस पर एफ.आई.आर दर्ज करने हेतु मांग की है.

ज्ञापन में बताया कि कांस्टेबल बाबूलाल, भंवर लाल और अर्जुन सिंह को दिनांक – 1/8/2020 को बिना किसी कारण,जांच के तीनों कांस्टेबल को उदयपुर (Udaipur) पुलिस (Police) लाईन में भेज दिया. दिनांक – 3/8/2020 को कांस्टेबल बाबूलाल की लाईन में आमद होने के बाद दोहपर 4.37 बजे पर एडिशनल एसपी मुकेश सांखला ने बाबूलाल जाट को कॉल करके धमकी भरे लहजे में आटा संग गूंध पीसने व मां बहन की गाली देते हुए लाईन में पड़े रहने कि बात कही. जिसकी ऑडियो भी सोशल मीडिया (Media) पर वाराल हुई है. मुकेश सांखला ने तेजाराम के साथ मारपीट की और इस षड्यंत्र को रचा जिसका चश्मदीद कांस्टेबल बाबूलाल जाट है. जिलाध्यक्ष सुधीर शर्मा ने कहा की एडिशनल एसपी मुकेश सांखला भ्रष्ट व्यक्ति है और तेजाराम प्रकरण में निर्दोष को फंसाने में अहम किरदार अदा किया है.

एडिशनल एसपी मुकेश सांखला ने तेजाराम के साथ मारपीट की, राजकार्य पर उपस्थित कांस्टेबल को झूठे बयान देने हेतु दबाव डालना और मां बहन की गाली दी. अगर मुकेश सांखला को निलंबित नहीं किया जाता है तो मेवाड़ की जनता अब आंदोलन करने उतरेगी. ज्ञापन देने में जिलाध्यक्ष सुधीर शर्मा, युवा सेना जिलाध्यक्ष गौरव नागदा, विधि व महिला सेना जिलाध्यक्ष मंजू सोलंकी, ज़िला उपाध्यक्ष गणेश वैष्णव, नगर अध्यक्ष दिलीप लक्षकार, सुरेश वागरी, संजय मेनारिया, राजमल राव आदि मौजूद रहे.