चुनाव आयोग से कांग्रेस की अपील साबित करती है कि वह किसान विरोधी है: बीआरएस

हैदराबाद, 26 अक्टूबर . भारत राष्ट्र समिति (बीआरएस) ने भारतीय चुनाव आयोग (ईसीआई) से ‘रायथु बंधु’ योजना के कार्यान्वयन को रोकने के लिए कहने पर कांग्रेस की आलोचना करते हुए कहा है कि इससे फिर से साबित हो गया है कि कांग्रेस किसान विरोधी है. .

बीआरएस के कार्यकारी अध्यक्ष केटी रामाराव (केटीआर) ने कहा कि कांग्रेस तेलंगाना में 24 घंटे बिजली और पीने के पानी की आपूर्ति में कटौती की भी मांग कर सकती है ,क्योंकि लोग इसमें भी मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव का हाथ देख सकते हैं.

केटीआर ने आरोप लगाया कि कांग्रेस किसानों की नंबर एक दुश्मन है और कहा कि यह चुनाव आयोग को दिए गए उनके प्रतिनिधित्व से साबित होता है.

बीआरएस नेता ने कहा कि किसान ‘रायथु बंधु’ योजना के तहत उन्हें निवेश समर्थन रोकने की कांग्रेस की साजिशों को बर्दाश्त नहीं करेंगे.

केटीआर ने एक्स पर पोस्ट किया कि लोग कांग्रेस को खारिज कर देंगे और उसे तेलंगाना में सबक सिखाएंगे.

उन्होंने दावा किया कि कर्नाटक में किसान पहले से ही कांग्रेस को वोट देने के अपने फैसले पर पछता रहे हैं.

केटीआर ने यह भी आरोप लगाया कि पार्टी इस तथ्य को सहन करने में असमर्थ है कि किसानों को तेलंगाना में 24 घंटे बिजली की आपूर्ति मिल रही है, और इसलिए उसके नेताओं ने सुझाव दिया है कि आपूर्ति को घटाकर तीन घंटे किया जाना चाहिए.

वह किसानों के लिए निवेश सहायता योजना ‘रायथु बंधु’ पर राज्य कांग्रेस नेताओं द्वारा ईसीआई को दिए गए एक प्रतिनिधित्व पर प्रतिक्रिया दे रहे थे, जिसके तहत राज्य सरकार किसानों को हर साल दो किस्तों में 10,000 रुपये प्रति एकड़ प्रदान कर रही है.

Check Also

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सीएम योगी आदित्यनाथ को बताया ‘डायनमिक मुख्यमंत्री’

गोरखपुर, 22 फरवरी . केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण गुरुवार को गोरखपुर दौरे पर थीं. …