Wednesday , 14 April 2021

पहाड़ों में बर्फबारी से दिल्ली में चली ठंडी हवाएं ठिठुरन बढ़ी

नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली के लोगों को फिर शीतलहर का कहर झेलना पड़ा जबकि कई इलाकों में हल्के से मध्यम स्तर का कोहरा छाया रहा. पहाड़ों पर हुई बर्फवारी के चलते दिल्ली में कोहरा छाए रहने के साथ ठंडी हवाएं चली जिससे मंगलवार (Tuesday) की सुबह अन्य दिनों की तुलना में ठंडी रही. मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में न्यूनतम तापमान 4 डिग्री सेल्सियस और अधिकतम तापमान 20 डिग्री सेल्सियस रहेगा. मौसम में होने वाले इस बदलाव की शुरुआत सोमवार (Monday) से हो गई है. पश्चिमी विक्षोभ के चलते दिल्ली का न्यूनतम तापमान रविवार (Sunday) की तुलना में तकरीबन एक डिग्री की बढ़ोतरी के साथ 5.6 डिग्री पर दर्ज किया गया. इससे पहले, मौसम विभाग ने बताया था कि मंगलवार (Tuesday) सुबह शीतलहर की शुरुआत के चलते न्यूनतम तापमान में गिरावट शुरू हो जाएगी, जो मंगलवार (Tuesday) और बुधवार (Wednesday) को चार डिग्री पर दर्ज किया जा सकता है, जबकि गुरुवार (Thursday) को न्यूनतम तापमान तीन डिग्री और शुक्रवार (Friday) को एक डिग्री की बढ़ोतरी के साथ चार डिग्री पर दर्ज किया जा सकता है.

मौसम विभाग ने शीतलहर के चलते जहां गुरुवार (Thursday) के लिए ऑरेंज अलर्ट जारी किया है, वहीं मंगलवार (Tuesday) , बुधवार (Wednesday) और शुक्रवार (Friday) के लिए यलो अलर्ट जारी किया है. पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने के चलते सोमवार (Monday) को दिल्ली की वायु गुणवत्ता में व्यापक सुधार हुआ है. केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड सीपीसीबी ने दिल्ली का समग्र वायु गुणवत्ता सूचकांक जो 396 पर दर्ज किया था, जो गंभीर श्रेणी से 4 अंक कम था, वह सोमवार (Monday) को 253 पर दर्ज किया गया है. इसे वायु गुणवत्ता मापने के पैमाने में खराब की श्रेणी में रखा जाता है.

वहीं, पृथ्वी विज्ञान मंत्रालय के प्रदूषण निगरानी संस्थान सफर के मुताबिक, रविवार (Sunday) देर रात हवा की गुणवत्ता में हुए सुधार की वजह से प्रदूषण के कणों को फैलाने में मदद की है. वहीं, पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने की वजह से 28 और 29 दिसंबर को वायु गुणवत्ता में और सुधार होने की संभावना है. हालांकि, 30 और 31 दिसंबर को वायु गुणवत्ता खराब हो सकती है, जो बेहद खराब की उच्च श्रेणी तक पहुंच सकती है.

Please share this news