Friday , 10 April 2020
उत्तराखंड वेलनेस-आयुष के लिए सबसे पसंदीदा राज्य : सीएम रावत

उत्तराखंड वेलनेस-आयुष के लिए सबसे पसंदीदा राज्य : सीएम रावत

देहरादून.उत्तराखंड में वेलनेस के क्षेत्र में कई नामी ग्रुप निवेश करेंगे. मंगलवार को मुंबई में आयोजित रोड शो के दौरान इन ग्रुपों ने राज्य में बड़े स्तर पर निवेश की इच्छा जताई. मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने उद्यमियों को भरोसा दिलाया कि उत्तराखंड में उन्हें हर सुविधा मुहैया कराई जाएगी. वेलनेस समिट 2020 की तैयारियों के सिलसिले में मुंबई में रोड शो हुआ. इसमें महिंद्रा, आदित्य बिड़ला, कामथ सहित नौ नामी ग्रुपों ने वेलनेस के क्षेत्र में उत्तराखंड में निवेश की इच्छा जताई. साथ ही अप्रैल में दून में होने वाली वेलनेस समिट में प्रतिभाग करने पर भी सहमति जताई. निवेशकों ने टिहरी और अल्मोड़ा में भी निवेश की इच्छा जताई. मुख्यमंत्री ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि उत्तराखंड वेलनेस और आयुष के क्षेत्र में तेजी से विकास कर रहा है और निवेशक इसका लाभ ले सकते हैं.
सीएम ने कहा कि पर्यावरण और खराब जीवन शैली के चलते तेजी से बीमारियां बढ़ रही हैं. ऐसे में पारंपरिक चिकित्सा पद्धति आयुर्वेद, योग एवं अध्यात्म की भूमिका बढ़ गई है. उन्होंने निवेशकों से इस क्षेत्र में आगे आने को कहा. उन्होंने कहा कि सरकार योग को पर्यटन से जोड़ने के प्रयास कर रही है.
मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में 20 हजार से अधिक योग प्रशिक्षक हैं. इसके चलते योग को पर्यटन से जोड़ने के प्रयास किए जा रहे हैं. जड़ी-बूटियों और औषधीय पादपों से संबंधित उद्योगों के जरिए पर्वतीय क्षेत्र में रोजगार के मौके पैदा किए जा रहे हैं. उन्होंने कहा कि भारत विशाल सांस्कृतिक और आध्यात्मिक विविधता वाला देश है. इसमें उत्तराखंड एक विशेष स्थान रखता है. उन्होंने गंगा, यमुना, हिमालय, प्राकृतिक सौन्दर्य एवं धार्मिक स्थलों को राज्य के विकास का स्तंभ बताया. आध्यात्मिक और सांस्कृतिक विरासत को मजबूती प्रदान करते हुए पुरातन एवं सांस्कृतिक मूल्यों को दोबारा से स्थापित किया जा रहा है.