Wednesday , 25 November 2020

मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री को लिखा पत्र


जयपुर (jaipur) . राज्य सरकार (State government) ने जोधपुर (Jodhpur) सहित प्रदेश के पश्चिमी क्षेत्र के 5 शहरों और 2104 गांवों को पेयजल आपूर्ति के लिए काफी समय से लम्बित राजीव गांधी लिफ्ट नहर तृतीय चरण योजना के लिए जल्द ऋण प्राप्त करने के लिए विशेष प्रयास शुरू किए हैं. मुख्यमंत्री (Chief Minister) अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने इसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Narendra Modi) (Prime Minister Narendra Modi) को पत्र लिखकर जापानी संस्था जायका से 1163.2 करोड़ रूपये के ऋण की शीघ्र स्वीकृति के लिए आग्रह किया है.

गहलोत ने पत्र में लिखा कि रेगिस्तानी क्षेत्र के जोधपुर (Jodhpur) , फलौदी, बिलाड़ा, पीपाड़ सिटी और समदड़ी नगरों तथा 2104 गांवों में स्वच्छ पेयजल की आपूर्ति के लिए राजीव गांधी लिफ्ट नहर तृतीय चरण योजना के शीघ्र निष्पादन की आवश्यकता है. इसके लिए राज्य सरकार (State government) ने 6 मार्च, 2020 को ही केन्द्रीय वित्त मंत्रालय के आर्थिक मामलात विभाग में ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत कर दिया था, जिसका 11 जून, 2020 को विभाग की स्क्रीनिंग कमेटी द्वारा अनुमोदन भी किया जा चुका है.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने बताया कि राज्य सरकार (State government) ने केन्द्रीय आवासन एवं शहरी कार्य मंत्रालय को इस पेयजल योजना की विस्तृत कार्ययोजना रिपोर्ट (डीपीआर) भी प्रस्तुत कर दी है. राज्य सरकार (State government) के अधिकारी इस विषय में केन्द्र सरकार के सम्बन्धित मंत्रालयों के अधिकारियों के साथ लगातार सम्पर्क में हैं. इस क्रम में गहलोत ने प्रधानमंत्री से योजना के लिए ऋण की शीघ्र स्वीकृति हेतु वित्त मंत्रालय को निर्देशित करने के लिए आग्रह किया है. उल्लेखनीय है कि प्रस्तावित राजीव गांधी लिफ्ट नहर तृतीय चरण परियोजना के शीघ्र निष्पादन से पश्चिमी राजस्थान (Rajasthan) के गांव और शहरों की बड़ी आबादी को स्वच्छ पेयजल आपूर्ति का लाभ मिल सकेगा.