Tuesday , 15 June 2021

प्रदेश के अधिकांश जिलों में आंधी-बारिश के आसार

भोपाल (Bhopal) . राजधानी भोपाल (Bhopal) सहित प्रदेश के अधिकांश जिलों में आंधी-बारिश की स्थिति बनी हुई है. इस दौरान कहीं-कहीं ओले भी गिर रहे है. मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में वर्तमान में तीन वेदर सिस्टम सक्रिय है. इसी के प्रभाव से बेमौसम बारिश और ओले ‎गिर रहे हैं.

मौसम विज्ञानियों के मुताबिक मौसम का इस तरह का मिजाज 21 मार्च तक बना रहने की संभावना है. 21 मार्च को ही एक नए पश्चिमी विक्षोभ के भी उत्तर भारत में प्रवेश करने की संभावना है. इसका प्रभाव 23 मार्च से दिखने लगेगा. मौसम विज्ञान केंद्र के वरिष्‍ठ विज्ञानी पीके साहा ने बताया कि वर्तमान में जम्मू-कश्मीर में एक पश्चिमी विक्षोभ मौजूद है. पूर्वी राजस्थान (Rajasthan)पर एक ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है. इसी तरह मराठवाड़ा पर भी ऊपरी हवा का चक्रवात बना हुआ है. हवा का रुख भी दक्षिण-पूर्वी बना हुआ है. इस वजह से हवा के साथ वातावरण में बड़े पैमाने पर नमी आ रही है.

इस वजह से राजधानी भोपाल (Bhopal) सहित प्रदेश के कई जिलों में गरज-चमक के साथ बौछारें पड़ रही हैं. उधर वातावरण गर्म होने के कारण शाम के समय गरज-चमक के साथ बारिश होने के आसार बन जाते हैं. शुक्रवार (Friday) को भी मप्र में राजधानी भोपाल (Bhopal) सहित कई स्थानों पर आंधी चलने के साथ बरसात होने की संभावना है. मौसम विज्ञानी साहा के मुताबिक वर्तमान में अधिकतम और न्यूनतम तापमान में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है. सुबह के वक्त आंशिक बादल होने के बाद भी धूप निकलती है. इसकी वजह से दोपहर तक उमस महसूस होने लगती है और धूप भी चुभने लगती है.

Please share this news