भारत में पहली बार सिरेमिक्स विकसित जिसका इस्तेमाल थर्मल इमेजिंग में होगा – Daily Kiran
Saturday , 23 October 2021

भारत में पहली बार सिरेमिक्स विकसित जिसका इस्तेमाल थर्मल इमेजिंग में होगा

नई दिल्ली (New Delhi) . भारत में पहली बार उच्च गुणवत्ता वाला पारदर्शी सिरेमिक्स विकसित जिसका इस्तेमाल थर्मल इमेजिंग और व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरणों में किया जा सकता है. भारतीय शोधकर्ताओं ने भारत में पहली बार एक पारदर्शी सिरेमिक्स विकसित किया है, जो कोलॉइडल प्रोसेसिंग नाम की तकनीक के बाद तापमान और दबाव के एक ही समय में इस्तेमाल से सैद्धांतिक पारदर्शिता तक पहुंचता है. यह पदार्थ थर्मल इमेजिंग अनुप्रयोगों में खासतौर पर कार्य के लिये कड़ी परिस्थितियों में और व्यक्तिगत सुरक्षा उपायों जैसे हेलमेट, फेस शील्ड और चश्में आदि में इस्तेमाल किया जा सकता है.

पारदर्शी सिरेमिक उन्नत पदार्थों का एक नया वर्ग है, जिसमें अद्वितीय पारदर्शिता और उत्कृष्ट यांत्रिक गुण हैं. इन पदार्थों को न केवल प्रकाश के लिये बल्कि पराबैंगनी (यूवी), इन्फ्रारेड (आईआर), और रेडियोफ्रीक्वेंसी (आरएफ) की पारदर्शिता के लिये भी डिजाइन किया जा सकता है, जिससे इसके इस्तेमाल के अनेक अवसर मिलते हैं. ये पदार्थ हालांकि कई देशों में तैयार किये जाते हैं, इनकी आपूर्ति पर प्रतिबंध है क्योंकि इनका इस्तेमाल रणनीतिक अनुप्रयोगों में किया जा सकता है. देश में इसे तैयार करने के लिये कई प्रयास किये लेकिन उत्पादित पारदर्शी सिरेमिक या तो प्रयोगशाला स्तर पर थे या कम पारदर्शिता के थे. वर्तमान में विकसित प्रक्रिया प्रायोगिक स्तर पर कई अनुप्रयोगों के इस्तेमाल के योग्य उत्पादन में सक्षम है.
 

Please share this news

Check Also

ममता के वित्तमंत्री को आरोप, डर के कारण 6 साल में 35,000 कारोबारी देश छोड़कर जा चुके

कोलकाता (Kolkata) .बंगाल की ममता सरकार में वित्त मंत्री अमित मित्रा ने मोदी सरकार पर …