बलात्कार के मामले में लोजपा सांसद प्रिंस राज और चिराग पासवान के खिलाफ केस दर्ज – Daily Kiran
Thursday , 28 October 2021

बलात्कार के मामले में लोजपा सांसद प्रिंस राज और चिराग पासवान के खिलाफ केस दर्ज

नई दिल्ली (New Delhi) . समस्तीपुर (samastipur) से लोजपा सांसद (Member of parliament) प्रिंस राज के खिलाफ दिल्ली पुलिस (Police) ने बलात्कार का मामला दर्ज किया है. एफआईआर (First Information Report) में लोजपा नेता चिराग पासवान का नाम है. चिराग पर आरोप लगा है कि उन्होंने अपने चचेरे भाई प्रिंस के खिलाफ कार्रवाई में देरी करने की कोशिश की थी. दिल्ली के कनॉट प्लेस थाने में ये मामला दर्ज हुआ है. पीड़िता ने मीडिया (Media) से बात करते हुए कहा, ‘मैं लोजपा से से जुड़ी थी. साल 2020 में प्रिंस राज ने वेस्टर्न कोर्ट में मेरा बलात्कार किया. इतना ही नहीं. मेरा अश्लील वीडियो भी बनाया गया.’ पाड़िता ने कहा कि मुझे डराने के लिए प्रिंस राज ने मेरे ऊपर संसद मार्ग थाने में जबरन उगाही का फर्जी केस भी दर्ज कराया. बता दें कि प्रिंस राज स्व. रामविलास पासवान के सबसे छोटे भाई रामचंद्र पासवान के बेटे हैं.

उसने आगे कहा, ‘मैंने जब ये सब चिराग भैया को बताया तो उन्होंने मेरी मदद करने की बजाय मेरी पहचान सार्वजनिक की और प्रिंस राज की मदद की. उसने कहा कि मैंने 3 महीने पहले कनॉट प्लेस थाने में शिकायत की थी लेकिन पुलिस (Police) ने कार्रवाई नहीं की. अब कोर्ट के आदेश पर पुलिस (Police) ने प्रिंस राज और चिराग पासवान के खिलाफ केस दर्ज किया है. बता दें कि दिल्ली की एक अदालत के आदेश के बाद पुलिस (Police) ने प्रिंस राज और चिराग पासवान के खिलाफ 7 सितंबर को मामला दर्ज किया. पीड़ित पक्ष के वकील सुदेश कुमारी जेठवा ने इस मामले को लेकर बताया था कि उन्होंने मई में दिल्ली पुलिस (Police) में शिकायत दर्ज कराई थी. इसके बाद उन्होंने जुलाई में दिल्ली की एक अदालत में एक आवेदन दिया. जिसके बाद कोर्ट ने सांसद (Member of parliament) प्रिंस राज और उनके चचेरे भाई चिराग पासवान के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का निर्देश दिया था.

गौरतलब है कि इस मामले के प्रकाश में आने के बाद 17 जून को लोजपा सांसद (Member of parliament) प्रिंस राज ने ट्वीट कर कहा था, ‘मैं स्पष्ट रूप से इस तरह के किसी भी दावे या बयान से इनकार करता हूं, जो भी मेरे खिलाफ किए गए हैं. ऐसे सभी दावे झूठे, मनगढ़ंत हैं, और मेरी प्रतिष्ठा को खतरे में डालकर पेशेवर और व्यक्तिगत रूप से मुझ पर दबाव बनाने के लिए एक बड़ी आपराधिक साजिश रची जा रही है.’

Please share this news

Check Also

10 लाख से अधिक लोगों का वैक्सीन लेने से इनकार सर्वे में 3 कारणों का खुलासा

पटना (Patna) . बिहार (Bihar) में 10 लाख से अधिक लोग कोरोना का टीका नहीं …