भाजपा का 9 साल का शासन हरियाणा को ‘विनाश की गहराई’ में ले गया : भूपेंद्र सिंह हुड्डा

चंडीगढ़, 26 अक्टूबर . हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने गुरुवार को कहा कि भाजपा सरकार के नौ साल के कार्यकाल ने राज्य को विकास की ऊंचाइयों पर ले जाने के बजाय विनाश की गहराई में पहुंचा दिया है.

भाजपा के नेतृत्व वाली हरियाणा सरकार के नौ साल पूरे होने पर पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने प्रतिक्रिया दी.

पूर्व सीएम ने कहा कि राज्य कांग्रेस सरकार के दौरान शीर्ष निवेश गंतव्य से घटकर बेरोजगारी, मुद्रास्फीति और अत्याचार में नंबर एक पर आ गया है. जो हरियाणा 2014 तक प्रति व्यक्ति आय, प्रति व्यक्ति निवेश, रोजगार, कानून व्यवस्था और समग्र विकास में नंबर वन राज्य था, उसे बीजेपी-जेजेपी ने मिलकर बेरोजगारी, अपराध, भ्रष्टाचार और नशे में नंबर वन बना दिया है.

विपक्ष के नेता ने कहा कि सरकार ने न तो हरियाणा में कोई नया बिजली प्लांट स्थापित किया है और न ही एक इंच भी नई रेलवे लाइन या एक इंच भी मेट्रो लाइन बिछाई है.

वर्तमान सरकार के दौरान राज्य में कोई भी राष्ट्रीय स्तर का संस्थान, बड़ा प्रोजेक्ट या बड़ा उद्योग स्थापित नहीं हुआ. ऐसी स्थिति में, वर्तमान सरकार किसका जश्न मना रही है? इसके विपरीत, इस सरकार को हरियाणा के नौ साल बर्बाद करने के लिए लोगों से माफी मांगनी चाहिए.

उन्होंने कहा कि सरकार पारिवारिक पहचान (आईडी), संपत्ति आईडी और मेरी फसल मेरा ब्योरा को अपनी उपलब्धियां मान रही है, लेकिन ये भ्रष्टाचार की उत्पत्ति और लोगों के गले की फांस बन गई है.

यहां तक कि भाजपा और जेजेपी विधायकों ने भी इस बात को सार्वजनिक तौर पर स्वीकार किया है. हकीकत तो यह है कि 90 फीसदी फैमिली आईडी और 95 फीसदी प्रॉपर्टी आईडी में अनियमितताएं पाई गई हैं.

करोड़ों का घोटाला करने के बाद आखिरकार सरकार को प्रॉपर्टी आईडी बनाने वाली कंपनी को ब्लैकलिस्ट करना पड़ा. जहां तक मेरी फसल मेरा ब्योरा की बात है तो इसकी सच्चाई किसान ही बताएंगे. किसानों का एक सुर में कहना है कि एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) से बचने और सरकारी खरीद में देरी के लिए यह पोर्टल चलाया जा रहा है.

पूर्व सीएम हुड्डा ने कहा कि वह 2 नवंबर को चंडीगढ़ में प्रेस वार्ता कर तथ्यों और आंकड़ों के साथ इस सरकार के नौ साल का सच हरियाणा की जनता के सामने रखेंगे.

एफजेड/एबीएम

Check Also

जम्मू-कश्मीर सरकार ने पीएमएवाई-जी के तहत ग्रामीण परिवारों के लिए 272 करोड़ रुपये की आवास सहायता जारी की

जम्मू, 3 मार्च . जम्मू-कश्मीर के ग्रामीण विकास और पंचायती राज विभाग ने प्रत्यक्ष लाभ …