Sunday , 11 April 2021

बिहार के वित्‍तमंत्री प्रसाद ने पेश किया वार्षिक बजट

पटना (Patna) . बिहार (Bihar) विधानसभा बजट सत्र में सोमवार (Monday) 22 फरवरी को भोजनावकाश के बाद नीतीश कुमार की राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक सरकार 2021-22 का बजट पेश किया. बजट एनडीए की नई सरकार में उप-मुख्‍यमंत्री व वित्‍त मंत्री तारकिशोर प्रसाद ने पेश किया. बजट भाषण के आरंभ में ही उन्‍होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी की कविता पढ़ी, जो बाधाओं से जूझने के लिए प्रेरित करती हैं. बाधाएं आती हैं आएं, कदम मिलाकर चलना होगा.

सरकार के प्रयासों से हम आर्थिक संकट से बाहर निकल पाए हैं. कोरोना अभी टला नहीं है. विपत्तियों से हम घबराते नहीं हैं. अंधकार के बाद नया सवेरा आता है. बजट सत्र शुरू होने से पहले से विपक्ष महंगाई, पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत, कोविड-19 (Covid-19) जांच के आंकड़े में फर्जीवाड़ा और कृषि कानूनों के खिलाफ बिहार (Bihar) की एनडीए सरकार पर हमवालर रही.

हर खेत तक पानी पहुंचाने के लिए विभिन्न विभागों में पांच सौ करोड़ रुपए का अतिरिक्त प्रावधान किया गया है. सभी गांवों में सोलर स्ट्रीट लाइट लगाई जाएगी. गांवों के विकास का आधार पशु एवं कृषि है. इससे ग्रामीणों की आय में वृद्धि होती है. आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर गोपालन, मछली पालन का विकास किया जाएगा. चौर क्षेत्र का विकास किया जाएगा. मछली पालन को इतना बढ़ाया जाएगा कि बिहार (Bihar) की मछलियां दूसरे राज्यों में जाएंगी. इसके लिए पांच सौ करोड़ रुपए व्यय किया जाएगा. स्वच्छ शहर के लिए बेसहारा लोगों के लिए बहुमंजिला भवन बनाया जाएगा. बेघरों को दिया जाएगा. सभी शहरों एवं नदी घाटों पर विद्युत शवदाह गृह का निर्माण होगा.

Please share this news