Sunday , 25 July 2021

दिल्ली में शराब की दुकानों और क्लबों को बड़ी राहत

नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली सरकार ने शराब की दुकानों, रेस्त्रां-बार और अन्य प्रतिष्ठानों के आबकारी लाइसेंस की अवधि तीन और महीने यानी 30 सितंबर तक बढ़ाने का निर्णय लिया है. आबकारी विभाग ने गुरुवार (Thursday) को जारी एक आदेश में कहा कि सरकार ने नई आबकारी नीति 2021-22 को मंजूरी दे दी है, जो अगले तीन महीने में लागू होने की संभावना है.

बयान में कहा गया है कि आबकारी विभाग 30 जून तक खत्म होने जा रहे लाइसेंस का नवीकरण करेगा. आदेश में गया है कि दिल्ली में अधिकृत शराब की सुगम व निर्बाध आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए मौजूदा लाइसेंसों की अवधि एक जुलाई से तीन महीने यानी 31 सितंबर तक बढ़ाने का निर्णय लिया गया है. इसमें आगे कहा गया है कि तीन महीने की अवधि के लिए 30 जून या उससे पहले आनुपातिक लाइसेंस शुल्क के भुगतान के बाद ही लाइसेंस का नवीनीकरण किया जाएगा. इस साल यह दूसरी बार है जब आबकारी विभाग ने शराब विक्रेताओं, बार, रेस्तरां के लाइसेंस को तीन महीने की अवधि के लिए नवीनीकृत करने का निर्णय लिया है. इससे पहले मार्च में 1 अप्रैल से 30 जून तक विस्तार दिया गया था.

राजधानी में लगभग 850 शराब की दुकानें हैं, जिनमें सरकारी एजेंसियां ​​और निजी व्यक्ति शामिल हैं. इससे पहले बीते दिनों केजरीवाल सरकार ने राजधानी के सभी शराब विक्रेताओं को पर्याप्त संख्या में मार्शल और स्टाफ तैनात करने का निर्देश दिया था ताकि शराब की दुकानों पर सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखने और मास्क पहनने जैसे कोरोना नियमों का पालन सख्ती से सुनिश्चित किया जा सके. इसके साथ ही सभी शराब विक्रेताओं को सुरक्षा और व्यवस्था बनाए रखने के लिए स्थानीय प्रशासन और पुलिस (Police) के साथ समन्वय स्थापित करने का भी निर्देश दिया गया था.

आबकारी विभाग ने एक आदेश में कहा गया था कि सभी चार सरकारी निगम जैसे डीएसआईआईडीसी, डीटीटीडीसी, डीएससीएससी और डीसीसीडब्ल्यूएस अपने सभी ठेकों (एल-6 और एल-8) पर पर्याप्त मार्शल तैनात करेंगे और निजी लाइसेंसधारी (एल-7, एल-9 और एल-10) भी पर्याप्त स्टाफ तैनात करेंगे, ताकि सभी शराब की लाइसेंसी दुकानों और ठेकों पर कोविड उपयुक्त व्यवहार जैसे मास्क पहनना, सोशल डिस्टेंसिंग बनाए रखना, सैनिटाइजर (Sanitizer) का नियमित उपयोग, शराब, पान, गुटखा, तंबाकू आदि का सेवन नहीं करना सुनिश्चित किया जा सके.

Please share this news