ऐथलीट मिल्खा सिंह कोरोना संक्रमित होने के बाद निधन

नई दिल्‍ली . महान ऐथलीट मिल्खा सिंह कोरोना से जंग हार गए. कोरोना (Corona virus) से संक्रमित होने के करीब एक महीने बाद 91 वर्षीय इस महान धावक का निधन हो गया. द्धइससे पहले उनकी पत्‍नी का भी निधन हो गया था.

milkh-singh-no-more

साल 1958 के कॉमनवेल्थ गेम्स के चैंपियन और 1960 के ओलिंपियन ने चंडीगढ़ (Chandigarh) के पीजीआई अस्पताल में अंतिम सांस ली. मिल्खा 20 मई को कोरोना (Corona virus) की चपेट में आए थे. उनके पारिवारिक कुक को कोरोना हो गया था जिसके बाद मिल्खा और उनकी पत्नी निर्मल मिल्खा सिंह कोरोना पॉजीटिव हो गए थे.

24 मई को उन्हें एक निजी अस्पताल में भर्ती करवाया गया था. उन्हें 30 मई को अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी. इसके बाद 3 जून को ऑक्सीजन लेवल में गिरावट के बाद उनहें PGIMER के नेहरू हॉस्पिटल एक्सटेंशन में भर्ती करवाया गया. गुरुवार (Thursday) को उनकी कोरोना की रिपोर्ट नेगेटिव आ गई थी.

पीएम ने जताया दुख, लिखा- हमने महान ऐथलीट खो दिया

महान ऐथलीट के निधन पर पीएम मोदी ने तस्वीर शेयर करते हुए शोक व्यक्त किया है. उन्होंने ट्वीट किया- मिल्खा सिंह जी के निधन से हमने एक महान खिलाड़ी खो दिया, जिसने देश की कल्पना पर कब्जा कर लिया और अनगिनत भारतीयों के दिलों में एक विशेष स्थान बना लिया. उनके प्रेरक व्यक्तित्व ने उन्हें लाखों लोगों का प्रिय बना दिया. उनके निधन से आहत हूं.

मिल्खा सिंह के संघर्ष पर बन चुकी है फिल्म

दिग्गज धावक मिल्खा सिंह के जीवन पर ‘भाग मिल्खा भाग’ नाम से फिल्म भी बनी है. उड़न सिख के नाम से फेमस मिल्खा सिंह ने कभी भी हार नहीं मानी. हालांकि मिल्खा सिंह ने कहा था कि फिल्म में उनकी संघर्ष की कहानी उतनी नहीं दिखाई गई है जितनी कि उन्होंने झेली है.

न्यूजीलैंड ने 2013 और 2015 में इंग्लैंड के खिलाफ एजेस बाउल में दो एकदिवसीय मैचों में अपने पिछले दोनों मुकाबलों में जीत हासिल की है.



Please share this news