Friday , 25 June 2021

दिल्ली दंगा में जान गंवाने वाले आईबी कर्मचारी के भाई को सरकारी नौकरी देने के प्रस्ताव को मंजूरी

नई दिल्ली (New Delhi) . दिल्ली के मुख्यमंत्री (Chief Minister) अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में दिल्ली कैबिनेट ने शुक्रवार (Friday) शाम हुई बैठक में दिल्ली दंगा में अपनी जान गंवाने वाले आईबी कर्मचारी स्वर्गीय अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा को दिल्ली सरकार में सरकारी नौकरी देने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी. इससे पूर्व सीएम अरविंद केजरीवाल ने अंकित शर्मा की हत्या (Murder) पर गहरा दुख व्यक्त किया था, साथ ही उनके परिवार से मुलाकात कर एक करोड़ की सहायता राशि दी थी.

सीएम अरविंद केजरीवाल ने परिवार से मुलाकात के दौरान एक सदस्य को सरकारी नौकरी का वादा भी किया था, शुक्रवार (Friday) को सीएम ने अपना वादा पूरा किया. भाजपा ने अंकित शर्मा हत्या (Murder) कांड को बड़ा राजनीतिक मुद्दा बनाया था, लेकिन मदद के लिए भाजपा की केंद्र सरकार (Central Government)पीछे हट गई. केंद्र सरकार (Central Government)ने स्व. अंकित शर्मा के परिवार के किसी सदस्य को नौकरी देने से इंकार कर दिया था. अब केजरीवाल सरकार ने स्व. अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा को नौकरी दी.

मुख्यमंत्री (Chief Minister) अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में आज दिल्ली कैबिनेट की बैठक हुई. इस बैठक में 2020 में दिल्ली में हुए दंगे के दौरान अपनी जान गंवाने वाले आईबी कर्मचारी स्वर्गीय अंकित शर्मा के भाई अंकुर शर्मा को सरकारी नौकरी देने के प्रस्ताव को भी मंजूरी दी गई. दिल्ली सरकार स्वर्गीय अंकित शर्मा के भाई को जल्द से जल्द दिल्ली सरकार में योग्यता के अनुसार सरकारी नौकरी प्रदान कर देगी.

उल्लेखनीय है कि पिछले वर्ष दिल्ली में हुए दंगा के दौरान भजनपुरा इलाके में आईबी कर्मचारी अंकित शर्मा को भीड़ ने घेर लिया था और उनकी हत्या (Murder) कर दी थी. स्व. अंकित शर्मा की हत्या (Murder) पर सीएम अरविंद केजरीवाल ने गहरा दुख व्यक्त किया था और उनके परिवार से मुलाकात कर उन्हें एक करोड़ रुपए की सहायता राशि दी थी. उस दौरान सीएम अरविंद केजरीवाल ने उनके परिवार के एक सदस्य को दिल्ली सरकार में नौकरी देने का भी वादा किया था. जिसे सीएम अरविंद केजरीवाल ने आज पूरा कर दिया.

Please share this news