एंटीलिया केस: NIA ने किया पूर्व ‘एनकाउंटर स्पेशलिस्ट’ प्रदीप शर्मा को गिरफ्तार, 28 जून तक हिरासत में

मुंबई (Mumbai) , . मुंबई (Mumbai) में उधोगपति मुकेश अंबानी के घर एंटीलिया के बाहर आतंकी साजिश की झूठी कहानी बनाने के आरोप में राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने मुंबई (Mumbai) पुलिस (Police) के पूर्व ‘एनकाउंटर स्पेशलिस्ट’ प्रदीप शर्मा को गिरफ्तार किया है. कोर्ट ने उन्हें 28 जून तक एनआईए की हिरासत में भेज दिया है. सूत्रों के मुताबिक, प्रदीप शर्मा लंबे समय से राष्ट्रीय जांच एजेंसी के रडार पर था लेकिन जांत एजेंसी के पास प्रदीप शर्मा के खिलाफ पुख्ता सबूत नहीं थे.

हाल ही में गिरफ्तार किए गए संतोष आत्माराम शेलार और आनंद पांडुरंग से मिले इनपुट के आधार पर इस केस की जांच के लिए गुरुवार (Thursday) सुबह एनआईए की टीम ने शर्मा ने घर पर छापेमारी की थी जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया. शर्मा इस मामले में एनआईए द्वारा गिरफ्तार किए जाने वाले पांचवें पुलिस (Police)कर्मी हैं. अधिकारियों ने कहा कि “एनआईए की एक टीम ने बुधवार (Wednesday) रात शर्मा को लोनावला हिल स्टेशन के एंबी वैली में हिरासत में लिया, जिसके बाद उन्हें पूछताछ के लिए दक्षिण मुंबई (Mumbai) में केंद्रीय एजेंसी के कार्यालय में लाया गया.

एनआईए ने मुंबई (Mumbai) के अंधेरी (पश्चिम) में जेबी नगर स्थित उनके आवास पर गुरुवार (Thursday) सुबह करीब छह बजे छापेमारी की और कई घंटों तक वह चली, इस दौरान कुछ आपत्तिजनक दस्तावेज बरामद किए गए. कुछ घंटों तक पूछताछ करने के बाद एनआईए ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया. अधिकारियों ने बताया कि एनआईए ने मामले के सिलसिले में मुंबई (Mumbai) के पश्चिमी उपनगर मलाड से सतीश उर्फ तन्नी भाई उर्फ विक्की बाबा और मनीष सोनी को भी गिरफ्तार किया है.

सूत्रों के अनुसार, शर्मा की संलिप्तता दो अन्य आरोपियों संतोष शेलार और आनंद जाधव से पूछताछ के दौरान सामने आई, जिन्हें 11 जून को लातूर से पकड़ा गया था. आपको बता दें कि इस मामले में मुंबई (Mumbai) पुलिस (Police) के निलंबित एपीआई सचिन वज़े मुख्य साजिशकर्ता था. एनआईए अप्रैल माह तक एक संदिग्ध महिला के साथ-साथ मुंबई (Mumbai) के पूर्व पुलिस (Police) कमिश्नर परमबीर सिंह, पूर्व एनकाउंटर स्पेशलिस्ट प्रदीप शर्मा सहित कई डीसीपी और छोटे बड़े 25 से ज्यादा पुलिस (Police) वालों का बयान दर्ज कर चुकी है. सचिन वज़े को हफ्ता देने वाले कई बार मालिकों से भी पूछताछ की गई थी.

Please share this news