Friday , 16 April 2021

मिड डे मील योजना में पक्षपात का आरोप

जबलपुर, 01 जनवरी . शासकीय एकीकृत उच्चतर माध्यमिक विद्यालय कैलवास में मध्यान्ह भोजन योजना के तहत छात्रों को कीड़े व घुन लगा काला गेंहूं व वितरण करने का मामला अब तूल पकड़ने लगा है. मप्र तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने पूरे प्रकरण में शिक्षकों को दोषी करार देकर उन्हें निलंबित करने की कार्यवाही को एकतरफा बताया है. कर्मचारी संघ ने कलेक्टर (Collector) को ज्ञापन देकर शिक्षकों का निलंबन आदेश निरस्त करने की मांग की है.

कर्मचारी संघ ने कलेक्टर (Collector) को सौंपे ज्ञापन में कहाकि जिला शिक्षा अधिकारी द्वारा शासकीय एकीकृत उमावि कैलवास जबलपुर (Jabalpur)में छात्रों को मध्यान्ह भोजन खद्यान में कीड़े, घुन लगा काला गेंहू, अनाज वितरण करने के मामले में विद्यालय के प्रधानाध्यापक सहित सतीश उपाध्याय सहा.शि., श्रीमती शांति कुरील सहा.शि. एवं रूपेश भुषारी माध्यमिक शिक्षक को बिना सुनवाई के अवसर दिये निलंबित कर दिया गया है. राशन दुकान से खाद्यान्न एवं चावल अम्बे स्व सहायता समूह ग्राम कैलवास के द्वारा प्राप्त एवं भण्डारण किया गया. छात्रों को खाद्यान्न वितरण के समय स्व सहायता समूह द्वारा शिक्षकों की अनुपस्थिति में ही खराब क्वालिटी का खाद्यान्न वितरण कर दिया गया. जिसमें निलंबित किये गये शिक्षकों का कोई दोष सिद्ध नहीं होता है. फिर भी निर्दोष शिक्षकों पर निलंबन की कार्यवाही की जाना न्यायसंगत नहीं है.

Please share this news