Friday , 16 April 2021

नेपानगर में सभी टे्रनो के स्टापेज बंद

बुरहानपुर (Burhanpur) नेपानगर रेलवे (Railway)स्टेशन पर सभी 11 टे्रनो के स्टापेज को रेल प्रशासन द्वारा अचानक बंद करने से लोगों में आक्रोश है. कागज़ की नगरी नेपानगर में टे्रनो के स्टापेज बंद होने से यहां की जिंदगी थम गई है, संघर्ष समिति के बैनरतले गुरूवार को सैकडों की संख्या में शहरवासी रेलवे (Railway)स्टेशन पहुंच कर रेल पटरीयों पर बैठ धरना देने लगे इन की मांग है कि नया साल रेल में नही तो जेल में के नारों के साथ भारी आंदोलन पर उतारू है. इन्हें रोकने के लिए भारी मात्रा में आरपीएफ जीआरपी और पुलिस (Police) बल तैनात किया गया था बावजूद इस के सैकडो महिला पुरूष रेल पटरीयों पर पहुंच कर लेट गए.

कोविड 19 के चलते रेल मंत्रालय के द्वारा लॉक डॉउन (Lock down) के बाद स्पेशल टे्रनो के नाम से रेल सेवा शुरू की गई है लेकिन नेपानगर सहित अन्य स्टेशनो पर स्टापेज इस आधार पर बंद कर दिए गए कि यहां टिकिट सेलिंग कम है लेकिन नेपानगर ऐसा स्टेशन है जहां यहां के लोगों की जीवन रेखा रेल बिना सूनी है. ऐसे में यहां टे्रनो के स्टापेज दिया जाना अवश्यक है. ट्रेनो के स्टापेज को दोबारा शुरू कराने के लिए विधायक और सांसद (Member of parliament) से भी गोहार लगाई गई परंतु कोई परिणाम सामने नही आने के चलते लोगों में आक्रोश बढा और आंदोलन के रूप में लोग रेल पटरीयों तक पहुंच गए जहां 2 घंटे से अधिक समय तक टे्रक जाम रहा जिसको देखते हुए स्थानीय रेल और पुलिस (Police) प्रशासन की ओर से लोगों को समझाईश दी गई तथा उन्हें आश्वासन दिया गया कि आंदोलन की जानकारी उच्च अधिकारीयों तक पहुंचा दी गई है शीघ्र ही समस्या का निराकरण कर लिया जाऐगा. गुरूवार को नेपानगर रेलवे (Railway)स्टेशन पर होने वाले रेल आंदोलन में कोविड नियमों की खुलकर धज्जीयां उडी यहां अनेक लोग बिना मास्क लगाऐ धरने में पहुंचे तथा हजारों की संख्या में भीड जुटने से सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी नही होता देखा गया जिस से संक्रमण फैलने का खतरा बढ गया है.

Please share this news