Tuesday , 15 June 2021

तिलवारा में जिला प्रशासन की भूमाफिया पर कार्रवाई

जबलपुर, 25 मार्च . तिलवारा के पास घुंसौर में प्लाटिंग करने वाले एक डेवलपर के खिलाफ जिला और पुलिस (Police) प्रशासन ने कार्रवाई की है. डेवलपर लगातार नोटिस मिलने के बाद डायवर्सन शुल्क जमा करने में आनाकानी कर रहा था, जिसके चलते उक्त कॉलोनी का एंट्री गेट पर बुल्डोजर चलाकर जमींदोज कर दिया गया. जानकारी के मुताबिक डेवलपर समीर खान ने घुंसौर में प्लाटिंग की गई है, जिसके कई भू-खंड बिक भी चुके हैं लेकिन अभी तक उसने अभी तक डायवर्सन सहित अन्य प्रशासकीय शुल्क जमा नहीं किए हैं.

पूर्व में एसडीएम अरजरिया द्वारा समीर खान को नोटिस भी दिया गया लेकिन न तो उसने दस्तावेज प्रस्तुत किए और न ही शुल्क जमा किया. गुरुवार (Thursday) को कार्रवाई से पहले भी डेवलपर से दस्तावेज दिखाने और शुल्क जमा करने कहा लेकिन उसने साफ इंकार कर दिया. जिसके बाद कॉलोनी के एंट्री गेट को ध्वस्त कर दिया गया. अधिक ारियों ने बताया कि कॉलोनी में रोड-नाली भी बनी हुई हैं लेकिन उसे तोड़ने पर भूखंड खरीदने वालों का नुकसान होता न कि कॉलोनाइजर का इसलिए सिर्फ एंट्री गेट ही तोड़ा गया है.

पहाड़ी काटकर बनाई गई कॉलोनी धराशाही…………..

अवैध कॉलोनियों के विरुद्ध दूसरी कार्यवाही ग्राम ऐंठाखेड़ा में की गई. यहाँ पहाड़ी काटकर कबीर फार्म के नाम से अवैध कॉलोनी बनाई जा रही थी. मौके पर बने कॉलोनी के ऑफिस और सीमेंट पोल लगाकर बनाई गई बाउंड्री को ध्वस्त कर दिया गया. एसडीएम जबलपुर (Jabalpur)नम: शिवाय अरजरिया ने बताया कि कबीर फार्म पर करीब ढाई एकड़ भूमि पर प्लॉट काट दिये गये थे. इस भूमि को वापस यथा स्थित में ला दिया गया है.

प्रवेश द्वार और सड़क तोड़ी………….

एसडीएम जबलपुर (Jabalpur)के नेतृत्व में अवैध कॉलोनियों के विरुद्ध तीसरी कार्यवाही भी ऐंठाखेड़ा में ही की गई. यहाँ क्रिस्टल वैली के नाम से अमित चक्रवर्ती द्वारा अवैध कॉलोनी का निर्माण किया जा रहा था. कार्यवाही के दौरान इस अवैध कॉलोनी के भव्य प्रवेश द्वार एवं सड़क आदि तोड़ दी गई. मौके पर कॉलोनाइजर द्वारा बताया गया कि बिना विकास अनुज्ञा प्राप्त किये यहाँ अलग-अलग लोगों को सतरह भूखण्ड बेचे गये हैं.

Please share this news