Monday , 19 April 2021

५८ लाख हड़पने वाले पर धोखाधड़ी का प्रकरण दर्ज

जबलपुर, 02 जनवरी . विजयनगर थाने में एमपीईबी के अधीक्षण यंत्री के साथ 58 लाख रूपये की धोखाधड़ी करने वाले पर प्रकरण दर्ज किया गया है. पुलिस (Police) से प्राप्त जानकारी के अनुसार एमपीईबी में अधीक्षण यंत्री दमोह में पदस्थ विनोद कुमार जैन जबलपुर (Jabalpur)में ही अपनी स्थायी निवास बनाने की नीयत से एक मकान खरीदना चाहते है. इस बात की जानकारी तिलहरी मंडला रोड निवासी सुदीप चौधरी को हो गई.

सुदीप चौधरी ने शीतलकुंड नयागाँव निवासी विनोद कुमार जैन से संपर्क किया और विजय नगर स्कीम नंबर 41 के एक प्लाट को अपना बताकर सौदा तय कर लिया. सुदीप चौधरी का मकान अिंहसा चौक में है. सौदा कुल 72 लाख में तय हुआ था. इसके बाद सुदीप ने अपने बेटे बंटी के अकाउंट में आरटीजीएस के माध्यम से 58 लाख रूपये जमा कर लिये. रजिस्ट्री करने की बात पर बंटी टालमटोल करने लगा और उन्हें झूठे प्रकरण में फंसाने की धमकी देने लगा. प्लाट के संबंध में जब विनोद कुमार जैन ने तहसीलदार अधारताल से जानकारी हासिल की तो प्लाट अभिलेख में प्लाट जितेंद्र विश्वकर्मा, कमल सिंह चंदेल निवासी हर्षित नगर जबलपुर (Jabalpur)के नाम दर्ज मिला. सुदीप चौधरी ने दूसरे के नाम पर दर्ज फोटो को अपना बताकर बेच दिया है. विजय नगर थाने में जाँच के बाद धोखाधड़ी के आरोप में धारा 420 के तहत प्रकरण दर्ज किया गया है.

Please share this news