Thursday , 26 November 2020

कुशीनगर में गन्ने के खेत से मिले 500 और 2000 के नोट

कुशीनगर (Kushinagar) . उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के कुशीनगर (Kushinagar) में स्थित एक गांव में गन्ने के खेत में 500 और 2000 के नोट मिलने का समाचार प्रकाश में आया है. नोट मिलनेेेे की सूचना पर लोगों की भीड़ जमा हो गयीऔर लूट मच गयी. जानकारी के मुताबिक कुशीनगर (Kushinagar) के हाटा कोतवाली थानाक्षेत्र के सिकटिया गांव निवासी सीताराम के गन्ने के खेत में सोमवार (Monday) की शाम को मजदूर गन्ना छिल रहे थे कि अचानक एक मजदूर की नजर फ़टे कपड़े में लपेट कर रखे गए नोटों पर पड़ी, खेत में नोट होने की जानकारी मिलते ही मजदूर रुपये लूटने पर लग गए.

जैसे ही यह सूचना गांव में पँहुची, किसी ग्रामीण ने इसकी सूचना हाटा कोतवाली पुलिस (Police) को दी, प्रभारी कोतवाली हाटा जयप्रकाश पाठक ने सूचना देने वाले ग्रामीण के हवाले से पूरे गांव से कहा कि वह नोटों को सुरक्षित रखेंगे सुबह पुलिस (Police) आकर नोटों को अपने कब्जे में लेगी. अगली सुबह गांव पँहुचे हाटा कोतवाली प्रभारी जेपी पाठक ग्रामीणों से रुपये लेकर कोतवाली लौट आये तथा इसकी सूचना एसएसपी कुशीनगर (Kushinagar) को दी. इस सम्बन्ध में कोतवाली प्रभारी ने कहा कि देखने में तो सभी नोट असली लग रहे हैं, मगर इतनी बड़ी संख्या में रुपया गन्ने के खेत में कैसे पंहुचे इसकी जानकारी जांच होने के बाद ही हो पाएगी.

वही दूसरी तरफ ग्रामीणों का कहना है कि बीते 17 अगस्त को कस्बे में ही किराने की दुकान चलाने वाले राकेश मिश्रा के घर में छत के रास्ते घुसकर चोरों ने लगभग साढ़े चार लाख रुपये चुरा लिए थे, इस मामले में मिश्र ने तहरीर देकर मुकदमा दर्ज कराया था. इस मामले में सीसीटीवी फुटेज के आधार पर एक चोर को गिरफ्तार किया गया था, उसने पूछताछ के दौरान ही कोतवाली में अपना गला रेत लिया था, बाद में उसके ठीक होने के बाद उसे जेल भेज दिया गया. ग्रामीणों के अनुसार सम्भव है उन्हीं के द्वारा रुपया वहां खेतों में छुपाया गया होगा. इस सम्बन्ध में कोतवाली प्रभारी का कहना है कि इस मामले में अनुमान लगाना सही नहीं है, जांच की जा रही है. जांच के आधार पर अग्रिम कार्यवाही की जायेगी.