Wednesday , 8 April 2020
4 वर्षीय नाबालिग का अपहरण कर हत्या

4 वर्षीय नाबालिग का अपहरण कर हत्या

मलिहाबाद, लखनऊ. करीब एक सप्ताह पूर्व घर से बाहर निकले 4 वर्षीय नाबालिग का अपहरण कर उसकी हत्या कर शव छिपाने वाले हत्यारे को पुलिस ने गिरफ्तार कर जेल भेजा है. हत्यारे की शिनाख्त पर पुलिस ने शव को बरामद कर पोस्टमार्टम के लिये भेजा है.    मलिहाबाद थाना क्षेत्र के ग्राम भटखेरवा बंशीगढ़ी निवासी लालबहादुर श्रीवास्तव का 4 वर्षीय पुत्र ओम गत 18 मार्च दिन बुधवार को घर से खेलनेबाहर निकल गया था. जो काफी देर तक घर वापस नहीं आया. काफी खोजबीन के बाद जब उसका कहीं पता नहीं चला तो ओम के पिता लालबहादुरश्रीवास्तव ने थाने पर अज्ञात के विरूद्ध अपहरण का अभियोग दर्ज कराया था. जिसके बाद मलिहाबाद प्रभारी निरीक्षक सियाराम वर्मा ने टीमें गठित कर उसकी तलाश शुरू कर दी. पुलिस टीम ने कुछ संदिग्धों की काॅल डिटेल निकाल अपनी हिरासत मे लेकर पूंछतांछ की जिसमें इसी गांव के निवासी हंसराज शर्मा उर्फ भूरे का नाम सामने आया. जिसके बाद पुलिस उसकी तलाश कर रही थी. सोमवार लाॅकडाउन के पहले दिन सोमवार पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि हंसराज कसमण्ड़ीकलां स्थित अवध ग्रामीण बैंक के पास कहीं बाहर जाने के लिये खड़ा है. पुलिस टीम इंस्पेक्टर सियाराम वर्मा, अपराध निरीक्षक वहीदअहमद, उपनिरीक्षक अरूण कुमार मिश्रा अपने हमराह सिपाही तेजभान सिंह, कांस्टेबिल पंकज यादव, राहुल कुमार, अनुज कुमार, विशाल कुमार, नरेश कुमार, अजय कुमार सिंह, अनुज कुमार, महिला आरक्षी रजनी देवी व रबीना के साथ करीब शायं करीब 4 बजे मौके पर घेराबन्दी कर हंसराज शर्मा उर्फ भूरे को गिरफ्तार कर लिया. अपराध निरीक्षक वहीद अहमद ने बताया कि उक्त अभियुक्त ने कबूल किया है कि उसने ओम (4) की हत्या गला व मुंह दबाकर की थी. जिसके शव को उसने माल थाना क्षेत्र के ग्राम काकराबाद निवासी खिन्नी दीक्षित के बाग के आम के पेड़ के नीचे जमीन मे खोदकर गाड़ दिया था. हंसराज ने बताया कि उसने यह हत्या पुरानी रंजिस मे की थी. पुलिस ने हंसराज शर्मा उर्फ भूरे की निशानदेही पर जमीन से ओम का शव निकाल पोस्टमार्टम के लिये भेजा है. हंसराज उर्फ भूरे के ऊपर अपहरण के साथ हत्या की धारा मे बढ़ोत्तरी करते हुये जेल भेजा है.