Friday , 14 May 2021

३ लाख की धोखाधड़ी की पलिस कर रही जांच

जबलपुर, 05 जनवरी . गोराबाजार थाना अतंर्गत बिलहरी निवासी आर्मी बेस जबलपुर (Jabalpur)में लेवर के पद पर पदस्थ एक व्यक्ति के सेंट्रल बैंक (Bank) ऑफ इंडिया बिलहरी में बचत खाते से किसी जालसाज ने धोखाध़ड़ी कर 3 लाख 10 हजार 771 रुपये निकाल लिये. खास बात यह है कि खाताधारक का न तो चैक बुक है और न ही एटीएम कार्ड. बैंक (Bank) वालों ने उससे कहा था तुम्हारा खाता गलती से सागर ट्रांसफर हो गया है और उसका आधारकार्ड व एप्लीकेशन मांगी गई थी उसके बाद से यह घटनाक्रम हुआ. लिहाजा पुलिस (Police) इस मामलें में बैंक (Bank) की भूमिका संदिग्ध मान रही है. लिहाजा पुलिस (Police) सभी एंगलो पर जांच कर रही है. पुलिस (Police) ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया है.

गोराबाजार पुलिस (Police) थाने से प्र्राप्त जानकारी के अनुसार जनता स्वूâल के पास बिलहरी निवासी 49 वर्षीय नारायण प्रसाद बाबरिया रिपोर्ट दर्ज करायी कि वह 7 अप्रैल 2000 से 506 आर्मी बेस जबलपुर (Jabalpur)में लेवर के पद पर पदस्थ है उसने 7 जनवरी 2000 को सेन्ट्रल बैंक (Bank) ऑफ इंडिया बिलहरी जबलपुर (Jabalpur)में बचत खाता खुलवाया था जिसमें लगभग 3 लाख रूपये से ज्यादा की राशि जमा किया था किन्तु वहां से कोई लेनदेन की आवश्यकता नहीं पड़ी थी इसलिये कोई राशि नहीं निकाला था, उसने अपने खाते से पैसा निकालने के लिये एटीएम या चैक नही लिया था, उसने अपने सर्विस से पैमेण्ट के लिये पीएनबी बैंक (Bank) में खाता खुलवाया है जिससे वह लेनदेन करता है उसे फरवरी 2020 में पैसों की जरूरत पड़ने पर सेंट्रल बैंक (Bank) ऑफ इंडिया बिलहरी गया जहां पर 49 हजार रूपये का ट्रांसफर फार्म भरकर दिया तो वहां के कर्मचारी ने बताया कि आपका खाता सागर ट्रांसफर हो गया है, तो उसने पूछा कि सागर कैसे ट्रांसफर हो गया तो उन्होंने गलती से ट्रांसफर हो गया है बताया उसके लिये क्या करना पड़ेगा पूछा तो कहा एप्लीकेशन लगाओ और साथ मे आधारकार्ड की कापी दो तो उसने वैसा ही किया तब उसका खाता सागर से जबलपुर (Jabalpur)ट्रांसफर हुआ, उसके 3-4 दिन बाद बैंक (Bank) जाकर पासबुक में इन्ट्री करवाया तो वर्ष 2012 से इन्ट्री नहीं आयी, उसके बाद अपने खाते का स्टेटमेंट निकलवाया तो देखा कि उसके खाते से 2 नवंबर 2012 से 12 नवंबर 2012 के बीच कुल 2 लाख 70 हजार रूपये एटीएम से निकला हुआ था तथा 40 हजार 771 रूपया पर्चेस किया जाना लेख है इस प्रकार उसके खाते से कुल 3 लाख 10 हजार 771 रूपये को कोई अज्ञात व्यक्ति उसके खाता से एटीएम के माध्यम से छल पूर्वक निकालकर अवैध लाभ अर्जित किया है. पुलिस (Police) ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ रिपोर्ट पर धारा 420 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर मामला जांच में लिया है.

Please share this news