Thursday , 13 May 2021

कार न रोकने पर 21 वर्षीय युवक को पाक पुलिस ने फायरिंग कर मारी 22 गोलियां

इस्लामाबाद . पाकिस्तानी पुलिस (Police) का आम जनता के साथ अमानवीयता का व्यवहार छिपा नहीं है. अपने अवाम पर अत्याचारों के नए रिकॉर्ड बना रही है. शनिवार (Saturday) तड़के कार न रोकने पर पुलिस (Police) ने 21 साल के एक युवक को गोलियों से छलनी कर दिया. जिसके बाद अस्पताल पहुंचने से पहले उस युवक ने दम तोड़ दिया. बताया जा रहा है कि पुलिस (Police) ने उस युवक पर कुल 22 राउंड गोलियां फायर कीं. पाकिस्तानी मीडिया (Media) के अनुसार, यह हादसा इस्लामाबाद में शनिवार (Saturday) को रात करीब 2 बजे हुआ. उसामा सत्ती कार चलाते हुए जा रहा था. पुलिस (Police) के कहने पर कार न रोकने पर जवानों ने उससे ऊपर घातक हथियारों से फायरिंग शुरू कर दी. इस दौरान युवक के शरीर में कुल 17 गोलियां लगीं. जिसके कारण उसकी मौके पर ही मौत हो गई. पीड़ित के पिता ने प्रधानमंत्री इमरान खान से पुलिस (Police) के हाथों मारे गए अपने बेटे के लिए न्याय की अपील की है. घटना के बारे में बताते हुए पीड़ित के पिता ने कहा कि खुद पुलिस (Police) अधिकारी (एसएसओ) ने स्वीकार किया है कि उसामा निर्दोष था. लेकिन, बाद में पुलिस (Police) ने कोई आधिकारिक बयान नहीं दिया. इस मामले को लेकर सोशल मीडिया (Media) में पुलिस (Police) के खिलाफ जबरदस्त गुस्सा देखा गया. जिसके बाद इस मामले में कथित तौर पर अपराध में शामिल पांच पुलिस (Police)कर्मियों को गिरफ्तार किया गया है. लोगों ने सोशल मीडिया (Media) पर इस्लामाबाद में बढ़ते अपराधों के लिए पुलिस (Police) की कथित संलिप्तता पर सवाल उठाए हैं.

Please share this news