Monday , 10 May 2021

कोरोना से 18-44 साल के लोग सबसे ज्यादा संक्रमित लेकिन मृत्यु दर कम

नई दिल्ली (New Delhi) . कोरोना के संक्रमण के सबसे ज्यादा 52 फीसदी मामले 18-44 साल के आयु वर्ग में आए हैं, लेकिन इस उम्र वर्ग में मृत्यु के मामले सिर्फ 11 फीसदी हैं. केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने प्रेस कांफ्रेस के दौरान यह जानकारी दी. उन्होंने कहा कि 18-44 साल की उम्र वर्ग के लोग कामकाज और अन्य गतिविधियों के कारण सबसे ज्यादा सक्रिय रहते हैं. इसलिए उनमें संक्रमण के मामले सबसे ज्यादा हैं. इस आयु वर्ग में युवा ज्यादा होने और अन्य बीमारियों से संक्रमित कम होने के कारण मृत्यु के मामले महज 11 फीसदी हैं.

उन्होंने कहा कि कोरोना संक्रमितों में 8 फीसदी लोग 17 से कम उम्र के हैं. इस वर्ग में मृत्यु दर एक फीसदी है. 18-25 वर्ष के आयु वर्ग में 13 फीसदी संक्रमण हैं तथा एक फीसदी मृत्यु दर है. 26-44 आयु में 39 फीसदी संक्रमण हुए हैं तथा 10 फीसदी मौतें हुई. इसी प्रकार 45-60 आयु वर्ग में 26 फीसदी संक्रमण तथा 33 फीसदी मौतें हुइ हैं. 60 से ऊपर के संक्रमित लोगों का प्रतिशत 14 है और मृत्यु के मामले 55 फीसदी हैं. स्वास्थ्य सचिव ने कहा कि कोरोना संक्रमण के कुल 63 प्रतिशत मामले पुरुषों में सामने आए, जबकि 37 प्रतिशत महिलाएं संक्रमित हुईं. वहीं, कोविड-19 (Covid-19) से हुई मौत के कुल मामलों में 70 प्रतिशत मरीज पुरुष थे.

Please share this news