Wednesday , 1 April 2020
मध्य प्रदेश में कोरोना के 15 केस, इंदौर में 4, भोपाल और उज्जैन में एक-एक पॉजिटिव केस मिला

मध्य प्रदेश में कोरोना के 15 केस, इंदौर में 4, भोपाल और उज्जैन में एक-एक पॉजिटिव केस मिला

पहले जबलपुर में 6, भोपाल (Bhopal) , ग्वालियर और शिवपुरी में एक-एक मामले थे

मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल (Bhopal) में बुधवार (Wednesday) को कोरोनावायरस के संक्रमण का दूसरा मामला सामने आया. रविवार (Sunday) को प्रोफेसर कॉलोनी में पॉजिटिव मिली लड़की के पिता में भी संक्रमण की पुष्टि हुई है. लड़की के पिता पत्रकार हैं. वे 20 मार्च को पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister) कमलनाथ की प्रेस कॉन्फ्रेंस में शामिल हुए थे. इसमें कमलनाथ ने इस्तीफे का ऐलान किया था. पत्रकार में संक्रमण सामने आने पर कमलनाथ ने भी खुद को आइसोलेट कर लिया है. मध्य प्रदेश के 6 जिलों में संक्रमण पहुंच चुका है. अब तक जबलपुर में 6, इंदौर (Indore) में 4, भोपाल (Bhopal) में 2, उज्जैन, ग्वालियर और शिवपुरी में एक-एक पॉजिटिव केस मिल चुका है. इसके साथ ही प्रदेश में कोरोना के मरीजों की संख्या 15 हो गई है.

इंदौर (Indore) में अब तक 222 लोग होम क्वारैंटाइन

स्वास्थ्य विभाग ने मंगलवार (Tuesday) को 21 सैंपल जांच के लिए भेजे गए थे. इनमें से इंदौर (Indore) से 13 और आसपास के जिलों के 8 सैंपल हैं. एमजीएम मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब में इनकी जांच की गई. इंदौर (Indore) में 222 लोग होम क्वारैंटाइन हैं. इनमें से 14 की रिपोर्ट आना बाकी है. वहीं, 162 लोग ठीक हो गए.

भोपाल (Bhopal) के हमीदिया अस्पताल में 600 बेड रिजर्व रखे गए

मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह ने आला अधिकारियों को निर्देश दिए हैं कि जहां से विदेशी मेहमान लौटे हैं, ऐसे सभी राष्ट्रीय उद्यानों, पर्यटन क्षेत्रों की सघन जांच की जाए. निजी अस्पतालों में उपलब्ध मेडिकल अमले का भी उपयोग करें. दूसरी ओर, प्रशासन ने भोपाल (Bhopal) के हमीदिया अस्पताल को खाली कराने के आदेश दिए हैं. इसमें 600 बैड कोरोना मरीजों के लिए रिजर्व हैं. अन्य 200 बेड पर अभी मरीज हैं, जिन्हें दो दिन में कहीं और शिफ्ट कर दिया जाएगा. इसके अलावा इंदौर (Indore) , ग्वालियर, जबलपुर, सागर और रीवा मेडिकल कॉलेज से जुड़े अस्पतालों को महामारी के इलाज का सेंटर बनाया जाएगा.