Saturday , 5 December 2020

राजस्थान में 14 राप्रसे अफसरों को मिला दीवाली का तोहफा, पदोन्नत होकर बने आईएएस


-संघ लोक सेवा आयोग की बोर्ड मीटिंग में इन अफसरों का प्रमोशन के लिये किया गया था चयन

जयपुर (jaipur) . राज्य प्रशासनिक सेवा (राप्रसे) के 14 अफसरों का भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) में पदोन्‍नत किया गया है. राज्य के कार्मिक विभाग ने दीवाली से पूर्व इनको प्रमोशन का तोहफा दे दिया है. इन अफसरों को साल 2020 की वैकेंसी के रिक्तियों के लिए प्रमोशन मिला है. नवंबर में दिल्ली स्थित संघ लोक सेवा आयोग की बोर्ड मीटिंग में इन अफसरों का प्रमोशन के लिये चयन किया गया था. बोर्ड मीटिंग में मुख्य सचिव राजीव स्वरूप, पूर्व मुख्य सचिव एवं मुख्यमंत्री (Chief Minister) के सलाहकार डीबी गुप्ता और कार्मिक विभाग की तत्कालीन सचिव रोली सिंह शामिल हुई थीं.

कार्मिक विभाग की ओर से जारी आदेश के अनुसार, महेंद्र पारख, हृदेश कुमार शर्मा, लक्ष्मण सिंह कुड़ी, नलिनी कठोतिया, राजेंद्र सिंह शेखावत, सोहन लाल शर्मा, मेघराज सिंह रतनू, अनु प्रेरणा कुंतल, राजेंद्र विजय, प्रकाश चंद शर्मा, शक्ति सिंह राठौड़, प्रज्ञा केवलरामानी, ताराचंद मीणा और हरिमोहन मीणा को पदोन्नति का तोहफा मिला है. राज्य सरकार (Government) ने राप्रसे से आईएएस में प्रमोशन के लिये प्रदेश से 3 गुना (guna) अफसरों के नाम डीओपीटी को भेजे थे. इनमें आरएएस नरेंद्र गुप्ता, प्रेमसुख बिश्नोई, अनिल कुमार अग्रवाल, लालाराम, रश्मि शर्मा, टीकमचंद बोहरा, हरजीलाल अटल, महावीर प्रसाद मीणा, खजान सिंह, एसएल चौहान, लक्ष्मीनारायण मंत्री, इकबाल खान और कल्पना अग्रवाल के नाम भी शामिल थे. इनके साथ ही राज्य सरकार (Government) की ओर से मनीष अरोड़ा, सुनील शर्मा, राजेंद्र प्रसाद शर्मा, पुष्पा सत्यानी, पुखराज सेन, श्रुति भारद्वाज, अरुण कुमार पुरोहित, मुकुल शर्मा, अजय सिंह राठौड़, प्रियंका गोस्वामी, जगजीत सिंह मोगा, रामअवतार मीणा प्रथम, रामनिवास मेहता, दुर्गेश कुमार बिस्सा, अरुण गर्ग और राजेंद्र सिंह कैन के नाम भी सूची में भेजे गये थे.