Friday , 16 April 2021

शिक्षकों के मनचाहे तबादले अब उनके काम के आधार पर होंगे

भोपाल (Bhopal) . शिक्षकों को अगर उनके मनचाहे स्थान या स्कूल में तबादला चाहिए तो उनका तबादला अब उनके काम के आधार पर किया जाएगा. 15 महीने की कांग्रेस सरकार के दौरान शिक्षकों की जो नई तबादला नीति बनी थी उसमें भी बदलाव किया जाएगा. नई शिक्षा नीति पर काम शुरू हो गया है. इसकी घोषणा शीघ्र की जाएगी.

पिछले दिनों शिक्षा मंत्री इन्दरसिंह परमार द्वारा शिक्षा विभाग के अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली गई थी, जिसमें शिक्षकों की स्थानांतरण नीति पर भी चर्चा की गई. शिक्षा मंत्री ने पुरानी स्थानांतरण नीति में बदलाव करने का संकेत दिया और कहा कि शिक्षकों को तबादलों के लिए इधर-उधर न भटकना पड़े, इसके लिए नीति में बदलाव किया जाएगा. शिक्षकों का तबादला उनके काम के आधार पर होगा. नई तबादला नीति को लेकर लोक शिक्षण संचालनालय, राज्य शिक्षा केंद्र और स्कूल शिक्षा विभाग ने काम शुरू कर दिया है और आने वाले दिनों में नई तबादला नीति की घोषणा भी की जाएगी.

उल्लेखनीय है कि 15 महीने की कांग्रेस सरकार के दौरान नई तबादला नीति लागू की गई थी. इसमें वे दम्पति जो शिक्षा विभाग में कार्यरत हैं, उन्हें अलग-अलग स्थान के बजाय एक ही शहर में रखा गया था. वहीं स्वैच्छिक तबादले को लेकर हजारों आवेदन भी आए थे और शिक्षकों को रिक्त पदों के आधार पर उनके मनचाहे स्थान पर भेजा गया था. वहीं शिक्षिकाओं के लिए अलग से तबादला नीति बनाई गई थी और गंभीर रूप से बीमार शिक्षकों को भी उनके मनचाहे स्थान पर भेजा गया था. कांग्रेस की तबादला नीति की उस समय काफी तारीफ भी हुई थी. अब भाजपा सरकार कांग्रेस की बनाई हुई नीति में भी आंशिक तौर पर बदलाव करेगी.

Please share this news