Sunday , 19 January 2020
वेतन बांटने के लिए जिन्ना एयरपोर्ट गिरवी रखेगा कंगाल पाकिस्तान?

वेतन बांटने के लिए जिन्ना एयरपोर्ट गिरवी रखेगा कंगाल पाकिस्तान?


इस्लामाबाद . पाकिस्तान सरकार इन दिनों आर्थिक संकट से गुजर रही है. पाकिस्तान सरकार के पास कर्मचारियों को वेतन बांटने और सरकार का खर्च चलाने के लिए भी खजाने में धन उपलब्ध नहीं है.

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार प्रधानमंत्री इमरान खान ने जिन्ना इंटरनेशनल एयरपोर्ट को गिरवी रखने का फैसला किया है. जिन्ना एयरपोर्ट गिरवी रखकर सरकार तीन बैंकों से लगभग 452 करोड रुपए का कर्ज़ लेगी. भारतीय मुद्रा में यह रकम लगभग 70 हजार करोड़ रुपए होती है.

जिन्ना एयरपोर्ट पाकिस्तान का सबसे बड़ा एयरपोर्ट है. इस एयरपोर्ट को गिरवी रख कर मीजान बैंक, बैंक ऑफ अलफलाह और दुबई इस्लामिक बैंक यह राशि पाकिस्तान सरकार को कर्ज के रूप में देंगे.

पाकिस्तान सरकार ने इस मामले में खुलकर कुछ भी कहने से इंकार किया है. सूत्रों के अनुसार प्रधानमंत्री इमरान खान और मंत्रिमंडल के सदस्यों के बीच हुई बैठक में जिन्ना एयरपोर्ट को गिरवी रखकर कर्ज लेने का निर्णय लिया है.