Thursday , 29 July 2021

रेट बढ़ने पर कार्रवाई करने कलेक्टर को पत्र भेजा

जबलपुर, 19 मार्च . दूध के रेट का मामला हाईकोर्ट में लंबित है तथा हाईकोर्ट ने कलेक्टर (Collector) जबलपुर (Jabalpur)से जवाब मांगा है, लेकिन जिला प्रशासन द्वारा हाईकोर्ट में जवाब प्रस्तुत नहीं किया गया है.
इसी बीच जबलपुर (Jabalpur)में रेट बढ़ाये गये, अत: कलेक्टर (Collector) तत्काल कार्रवाई करें तथा हाईकोर्ट में जवाब प्रस्तुत करें, यह नोटिस नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच के डॉ.पीजी नाजपांडे ने शुक्रवार (Friday) को कलेक्टर (Collector) जबलपुर (Jabalpur)को भेजा है.

दूध का उत्पादन बढ़ा………..

नोटिस में कलेक्टर (Collector) का ध्यान आकृष्ट किया है कि जबलपुर (Jabalpur)में वर्तमान में दूध के उत्पादन में 30 प्रतिशत तक की वृद्धि हुई है, बरसीम घास के खिलाई के कारण भैसों के आहार में मका, खाली आदि को कम खिलाया जा रहा है. इससे दूध के प्रति लीटर उत्पादन की लागत घट गई है. ऐसे में पेट्रोल-डीजल के रेट बढ़ने से दूध के रेट बढ़ाये गये, यह केवल बहाना है.

प्रदेश में कहीं पर भी रेट नहीं बढ़े………….

डॉ.पीजी नाजपांडे, रजत भार्गव, डी आर लखेरा, राममिलन शर्मा ने बताया कि समूचे मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) में कहीं पर भी दूध के रेट नहीं बढ़ाये गये हैं, इस कारा कलेक्टर (Collector) को तत्काल कार्रवाई करना चाहिए.

 

Please share this news