Sunday , 29 November 2020

राज्यकर्मचारियों को फिर मिलने लगेंगे सभी भत्ते या नहीं जल्द होगा फैसला

नई दिल्ली (New Delhi) . राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद उ.प्र. के शिष्ट मण्डल के साथ वार्ता में कर्मचारियों की समस्याओं पर अपर मुख्य सचिव कार्मिक स्तर पर हुई बैठक में महंगाई भत्ते समेत रोके गये भत्तों पर जल्द निर्णय लिये जाने सहमति बनी है. बैठक में कोरोना संक्रमण के कारण कर्मचारियों के रोके गए महंगाई भत्ते सहित अन्य सभी भत्तों पर शासन स्तर पर शीघ्र विचार किए जाने, फील्ड स्तरीय कर्मचारियों सहित उन कर्मचारियों को जो स्वयं की मोटर साइकिलों से शासकीय कार्य करने वाले कार्मिकों को मोटर साइकिल भत्तों पर भी विचार किया जाएगा.

अपर मुख्य सचिव कार्मिक स्तर पर लोक भवन में राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद की बैठक में परिषद के महामंत्री शिवबरन सिंह यादव, संयुक्त मंत्री अविनाश चन्द्र वास्तव, अति. महामंत्री अमिता त्रिपाठी व सुभाष चन्द्र तिवारी तथा संगठन मंत्री संजीव गुप्ता इस बातचीत में शामिल हुए. महामंत्री शिवबरन सिंह यादव ने बताया कि बैठक के दौरान कर्मचारियों की लम्बित लगभग चैबीस समस्याओं पर विचार के उपरान्त अपर मुख्य सचिव द्वारा अपने स्तर पर बेहतर समन्वय स्थापित कर कर्मचारियों की लम्बित समस्याओं का समय से निस्तारण कराने का आश्वासन दिया गया. इस दौरान चिकित्सा व्यय में आ रहे व्यवधान को दूर किए जाने पर भी मंथन किया गया. पति/पत्नी के राजकीय सेवक होने पर आश्रित के रूप में भुगतान को समाप्त किए जाने पर सहमति बनी. बैठक में अपर मुख्य सचिव कार्मिक के साथ पंचायती राज, राजस्व, चिकित्सा, पेंशन, वित्त सहित प्रमुख विभागीय अधिकारी शामिल हुए.