Thursday , 6 August 2020
रफ्तार के कहर ने छीनी 4 जिंदगियां

रफ्तार के कहर ने छीनी 4 जिंदगियां

रायबरेली. बीती रात तेज रफ्तार अनियंत्रित टाटा सफारी ने चार लोगों को रौंद दिया था जिसमें की तीन की घटनास्थल पर मौत हो गई थी जबकि एक ने अस्पताल में दम तोड़ दिया था. प्रत्यक्षदर्शियों की माने तो तेज रफ्तार अनियंत्रित कार फायर ब्रिगेड के सामने से एक वाहन को बचाने के चक्कर में असन्तुलित हो गई और तेजी से जूस की दुकान पर आकर खड़े लोगो को रौंदते हुए पलट गई जिसमें से कार में सवार दो लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे जिन्हें उपचार के लिए लखनऊ रेफर किया गया लोगो ने बताया कि टक्कर इतनी भयानक थी कि आस-पड़ोस के लोग सहम गए थे लोग कुछ समझ नहीं पा रहे थे कि आखिर यह सब कैसे क्या हो गया स्थानीय लोगों ने पहले तो एंबुलेंस को फोन किया लेकिन काफी परेशान होने के बाद फोन नहीं मिला सूचना पर पहुंची पुलिस ने स्थानीय लोगों की मदद से सभी को जिला अस्पताल पहुंचाया,जहा अस्पताल में अस्पताल कर्मियों की संवेदनहीनता नजर आई लगभग आधे घंटे तक शव गाड़ियों पर ही पड़े रहे लेकिन उन्हें उठाने के लिए ना तो वार्डबॉय  था और न ही स्ट्रेचर था गौरतलब है कि घटना में जो लोग कालकलवित हुए हैं उनमें से रूपेश उर्फ छोटू 16 निवासी देवगांव थाना खीरों जूस की दुकान पर काम करता था जिसके ऊपर परिवार का बड़ा बोझ था क्योंकि उसने बचपन में अपने पिता राजू को खो दिया था अपनी बहन रजनी मां माधुरी के साथ परिवार को आगे बढ़ाने की कोशिश कर रहा था लेकिन एक ऐसा दिन जिससे उसके और उसके परिवार के अरमान चकनाचूर हो गए वही शिवम भी दिल्ली में रहकर जूस कॉर्नर की दुकान चलाता था लेकिन बीते काफी समय से वह यहा पर जूस कॉर्नर की दुकान चला रहा था और उससे ही अपने परिवार का सहारा बना था लेकिन भगवान ने यह सब छीन लिया है फिलहाल मृतक शिवम के बड़े भाई शुभम ने अज्ञात वाहन चालक के खिलाफ सदर कोतवाली में तहरीर दी है. सदर कोतवाल अतुल सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है और आगे की कार्रवाई की जा रही.