Thursday , 13 May 2021

भारतीय ‎रिजर्व बैंक ने बजाज फाइनेंस पर लगाया 2.5 करोड़ का जुर्माना

नई दिल्ली (New Delhi) . भारतीय रिजर्व बैंक (Bank) (आरबीआई (Reserve Bank of India) ) ने कहा है ‎कि उसने बजाज फाइनेंस पर रेग्‍युलेटरी नॉर्म्‍स का उल्‍लंघन करने पर 2.5 करोड़ रुपए का जुर्माना लगाया है. आरबीआई (Reserve Bank of India) ने बताया कि कंपनी के खिलाफ रिकवरी और कलेक्‍शन के लिए गलत तरीकों के इस्‍तेमाल की ग्राहकों से बार-बार शिकायतें मिल रही थीं. कंपनी के खिलाफ निष्पक्ष व्यवहार संहिता के उल्लघंन की शिकायतें भी मिली थीं. ऐसे में कंपनी पर रेग्‍युलेटरी नियमों का उल्‍लंघन करने के लिए यह जुर्माना ठोका गया है. रिजर्व बैंक (Bank) ने बताया कि बजाज फाइनेंस, पुणे (Pune) पर आरबीआई (Reserve Bank of India) की ओर से जारी जोखिम प्रबंधन और आचार संहिता के निर्देशों का उल्‍लंघन किया. इसके अलावा कंपनी ने सभी एनबीएफसी के लिए लागू की गई निष्‍पक्ष व्‍यवहार संहिता की भी अनदेखी की.

केंद्रीय बैंक (Bank) ने रिजर्व बैंक (Bank) ऑफ इंडिया एक्‍ट, 1934 (आरबीआई (Reserve Bank of India) एक्ट) 1934) की धारा-58जी की उपधारा-1 के क्‍लॉज (बी) को धारा-58बी की उपधारा-5 के क्‍लॉज-एए के साथ पढ़ने पर मिली शक्तियों के तहत बजाज फाइनेंस के खिलाफ यह कार्रवाई की. आरबीआई (Reserve Bank of India) के मुताबिक कंपनी यह सुनिश्चित नहीं कर पाई कि जब उसके रिकवरी एजेंट ग्राहकों से वसूली करने जाएं तो उनका उत्‍पीड़न ना होने पाए. आरबीआई (Reserve Bank of India) ने जुर्माना ठोकने से पहले बजाज फाइनेंस को कारण बताओ नोटिस भेजकर पूछा था कि नियमों के उल्‍लंघन के मामले में क्‍यों ना कंपनी के खिलाफ जुर्माना की कार्रवाई की जाए. इस पर मिले जवाब के बाद केंद्रीय बैंक (Bank) ने फैसला किया कि कंपनी पर जुर्माना लगाया जाना चाहिए.

Please share this news