Sunday , 11 April 2021

पुलिस के हाथ लगे दोहरे हत्याकांड के सुराग, युवती बना रही थी शादी का दबाव

मुजफ्फुरपुर . मुजफ्फरपुर के एक होटल (Hotel) से मिली दो लाशों के मामले के सुराग पु‎लिस हाथ लगे हैं. होटल (Hotel) के सीसीटीवी फुटेज के आधार पर पु‎लिस ने यह कार्रवाई की. पु‎लिस ने बताया ‎कि सीसीटीवी फुटेज के आधार पर डांसर के गर्भवती होने के बाद शादी के दबाव की बात भी आ रही है, वहीं इनमें एक जमीन को लेकर पेंच भी सामने आया है. जिस पर पुलिस (Police) ने जांच शुरू कर दी है.

दरअसल, मृतक मनीष द्वारा डांसर को बाल खींचकर कमरे में ले जाया गया और वहां गोली मारी गई. इसके बाद युवक ने भी खुद को भी गोली मार ली थी. इस मामले में अब पुलिस (Police) कई बिंदुओं से जांच कर रही है. जानकारी के अनुसार, मनीष के कई होटल (Hotel) मैनेजरों से भी अच्छे संपर्क थे, जिस कारण वह रेडलाइट एरिया की लड़कियों के साथ यहां आता-जाता रहा है. पुलिस (Police) ने सीसीटीवी फुटेज देखने के बाद पाया कि वारदात वाली रात करीब 11 बजकर 01 मिनट पर कमरे का दरवाजा खुला. डांसर कमरे के बाहर निकली और उसके पीछे हेलमेट पहले मनीष बाहर आ गया. डांसर अभी सीढ़ी की ओर कदम बढ़ा ही रही थी कि उसके खुले बाल को पकड़ कर उसे खींचते हुए मनीष कमरे में ले गया. इसके बाद गोली चलने की आवाज आई. फुटेज को देखने और कमरे से मिले दोनों मोबाइल की जांच के बाद पुलिस (Police) अब डांसर के गर्भवती होने और उसकी ओर से शादी करने का दबाव डालने की ओर भी अपनी जांच ले जा रही है.

पुलिस (Police) का कहना है ‎कि रात 11 बजे से पहले भी दोनों में इसी बात पर झगड़ा हुआ, ‎फिर यह वारदात हुई. पुलिस (Police) इस मामले में मनीष को पिस्टल देने वाले को भी शामिल कर रही है. साथ ही पुलिस (Police) को शक है कि मनीष के तार स्मैक तस्करी और हथियार सप्लाई के कारोबार से भी जुड़े थे. नर्तकी की हत्या (Murder) के बाद उसके भाई और पति ने बताया 2019 में उसके नाम शुक्ला रोड पर जमीन ली गई थी. यह जमीन खान कोठी के पास की जमीन बेचकर खरीदी गई थी. नर्तकी के परिजनों ने कहा कि मनीष ने वह जमीन अपने नाम से लिखवा ली है, इस बात की जांच पुलिस (Police) को करनी चाहिए. मनीष के दोस्तों से पुलिस (Police) को पता चला है कि उसके नाम से कोई जमीन ही नहीं है. रेडलाइट इलाके की एक नर्तकी ने बताया कि पिछले साल लॉकडाउन (Lockdown) से पहले मनीष समस्तीपुर में होटल (Hotel) मैनेजर का काम काम करता था. लॉकडाउन (Lockdown) के समय उसकी नौकरी चली गई. इसके बाद से वह इस इलाके में ज्यादा आने लगा था. ‎फिलहाल पु‎लिस मामले की आगे जांच कर रही है.

Please share this news