पीड़ित बच्चों की खोज के लिये चाइल्ड लाइन ने शुरू किया जागरूकता का अभियान

बस्ती . संकट में बच्चों की मदद करने वाली संस्था चाइल्ड लाइन के कार्यकर्ताओं द्वारा घर-घर जाकर जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है. लोगों में जागरूकता के पर्चे का वितरण करने के साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि यदि कोरोना संकट काल में किसी बच्चे के माता-पिता दोनों या दोनों में से किसी एक का निधन हो गया हो और आय का श्रोत न हो तो उसकी जानकारी चाइल्ड लाइन को दें. उस परिवार के बच्चों को महिला एवं बाल विकास मंत्रालय भारत सरकार की ओर से चलायी जाने वाली कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलाया जायेगा.

पिकौरा दत्तू राय, गांधीनगर (Gandhinagar) , रौता चौराहा आदि क्षेत्रों में शबनम गौतम, प्रियंका चौधरी, चंदन शर्मा, सीमा सिंह, आदि ने अनेक परिवारों में सम्पर्क कर योजनाओं की जानकारी दी. बताया कि चाइल्ड लाइन इण्डिया फाउन्डेशन द्वारा संचालित कार्यक्रम बस्ती में ग्रामीण विकास सेवा समिति की ओर से संचालित किये जा रहे हैं. कोई बच्चा बीमार और अकेला हो, किसी बच्चे को आश्रय की जरूरत हो, कोई बच्चा छोड़ दिया गया हो, पिट रहा हो या किसी बच्चे से मजदूरी करायी जा रही हो, उत्पीडन हो रहा हो तो 1098 पर फोन कर कोई भी व्यक्ति उनकी मदद कर सकता है. यह सेवा 24 घंटे चलती है.

Please share this news